ट्रिपल तलाक कानून के खिलाफ सड़कों पर उतरी मुस्लिम महिलाएं

- in राजस्थान, राज्य

ट्रिपल तलाक के खिलाफ एकबार फिर से मुस्लिम महिलाएं सड़कों पर उतर आई और सरकार से इस बिल को वापस लेने के लिए मौन रहकर प्रदर्शन किया। राजस्थान के झुंझुनूं जिले में मुस्लिम महिलाओं द्वारा निकाले गए इस मौन जुलूस में महिलाओं ने कहा कि तलाक और निकाह का कानून हमारी शरियत में और कुरान में हैं उसके अनुसार तलाक और निकाह होता है। इसमें कोई गलत नहीं है।

ट्रिपल तलाक कानून के खिलाफ सड़कों पर उतरी मुस्लिम महिलाएंमामले के अनुसार सोमवार को तीन तलाक के खिलाफ मुस्लिम महिलाओं ने मौन जुलूस निकाला। यह एक ऐतिहासिक जुलूस था। सबसे पहले मुस्लिम महिलाएं कर्बला मैदान में एकत्रित हुई। यहां से रैली के रूप में एक नम्बर रोड होते हुए कलेक्ट्रट पहुंची।

रैली के करीब दो किलोमीटर लम्बी थी। एक छोर बस स्टैंड पर था तो दूसरा छोर कलेक्ट्रट पर मौजूद था। महिलाएं हाथों में तख्तियां लिए हुए थी। महिलाओं की भीड़ का देखकर पुलिस और प्रशासन के हाथ पैर फूल गए। इसके बाद अतिरिक्त जाब्ता बुलाया गया।

इस मौके पर मुस्लिम महिलाओं ने कहा कि इस बिल को वापस लिया जाए। इस्लाम धर्म मर्दों और औरतों के लिए कुरान में कानून की शक्ल दी गई। इसमें निकाह और तलाक का तरीका बताया गया है। मौजूदा सरकार हमारे धर्म के अंदरुनी मसले पर हस्तक्षेप कर रही है इसको बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

तीन तलाक का सरकार का बिल है इसमें इस्लामिक रूप से कई खामियां है। इन्हें दूर किया जाए। डॉ. फायजा मंजूर, नूसरत खातून, पार्षद शायरा बानो, शाहीन सिद्दीकी के नेतृत्व में यह रैली निकाली गई।

You may also like

समान विचार-समान विकास ही प्रदेश की तरक्की का आधार: सीएम राजे

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने समान विचार-समान