सेंसेक्स 222 अंक की बढ़त के साथ 36718 पर हुआ बंद

- in कारोबार

नई दिल्ली। जीएसटी काउंसिल की 28वीं बैठक में कई सामानों के रेट में कटौती किए जाने के फैसले के दम पर सोमवार को बाजार में जमकर खरीदारी हुई और वह नये रिकॉर्ड बनाकर बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का सेंसेक्स जहां 222.23 अंकों की तेजी के साथ 36,749.69 पर बंद हुआ वहीं नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 75 अंकों की तेजी के साथ उछलकर 11,085 के स्तर पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार के भीतर जहां सेंसेक्स ने रिकॉर्ड ऊंचाई को पार किया वहीं निफ्टी एक फरवरी के बाद के सबसे ऊंचे स्तर पर बंद हुआ।सेंसेक्स 222 अंक की बढ़त के साथ 36718 पर हुआ बंद

गौरतलब है कि शनिवार को हुई नई दिल्ली में हुई जीएसटी काउंसिल की बैठक में कई सामानों को 28 फीसद वाले स्लैब से हटाकर 12 और 18 फीसद वाले स्लैब में डाल दिया गया। काउंसिल के फैसले के बाद अब महज 35 सामान ही 28 फीसद वाले स्लैब में रह गए हैं। इस फैसले की वजह से सोमवार को मजबूत नोट के साथ शेयर बाजार की शुरुआत हुई और एफएमसीजी, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स और जूते-चप्पल बनाने वाली कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त तेजी आई। 

सबसे ज्यादा तेजी वेदांता लिमिटेड और अदानी पोर्ट्स के शेयर्स में रही। वेदांता लिमिटेड का काउंटर 4.42 फीसद की बढ़त के साथ 211.55 के स्तर पर और अदानी पोर्ट्स 3.83 फीसद की तेजी के साथ 384.05 के स्तर पर कारोबार कर बंद हुआ है। नैशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप इंडेक्स 1.11 फीसद और स्मॉलकैप 0.73 फीसद की बढ़त के साथ कारोबार कर बंद हुआ है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप इंडेक्स 1.11 फीसद और स्मॉलकैप 0.73 फीसद की बढ़त के साथ कारोबार कर बंद हुआ है।

एफएमसीजी शेयर्स में खरीदारी

सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो आईटी को छोड़ अन्य सभी सूचकांक हरे निशान में कारोबार कर बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा खरीदारी एफएमसीजी शेयर्स (2.46 फीसद) में हुई है। बैंक (0.50 फीसद), ऑटो (0.17 फीसद), फाइनेंशियल सर्विस (0.37 फीसद), मेटल (1.52 फीसद), फार्मा (0.47 फीसद), पीएसयू बैंक (2.37 फीसद), प्राइवेट बैंक (0.66 फीसद) और रियल्टी (1.71 फीसद) की बढ़त हुई है।

वेदांता लिमिटेड टॉप गेनर

निफ्टी में शुमार दिग्गज शेयर्स की बात करें तो 34 हरे निशान और 16 गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा तेजी यूपीएल, वेदांता लिमिटेड, बजाज फिनसर्विस, अदानीपोर्ट्स और आइटीसी के शेयर्स में हुई है। वहीं, हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो, विप्रो, एचडीएफसी बैंक और ग्रासिम के शेयर्स में गिरावट हुई है।  

करीब 9.15 बजे  

सोमवार के सत्र में भारतीय शेयर बाजार की शुरुआत बढ़त के साथ देखने को मिल रही है। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का इंडेक्स सेंसेक्स 57 अंक चढ़कर 36551 के स्तर पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का इंडेक्स निफ्टी 30 अंक चढ़कर 11040  के स्तर पर कारोबार कर रहा है। सबसे ज्यादा तेजी एशियनपेंट्स और आइटीसी के शेयर्स में है। एशियन पेंट्स का काउंटर 3.68 फीसद की बढ़त के साथ 1448.35 के स्तर पर और आइटीसी 1.90 फीसद की बढ़त के साथ 278.65 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप इंडेक्स 0.38 फीसद और स्मॉलकैप 0.27 फीसद की बढ़त देखने को मिल रही है।

वैश्विक बाजार का हाल

अंतरराष्ट्रीय बाजार में गिरावट के चलते तमाम एशियाई बाजार में कमजोरी देखने को मिल रही है। जापान का निक्केई 1.38 फीसद की गिरावट के साथ 22385 पर, चीन का शांघाई 0.37 फीसद की बढ़त के साथ 2839, हैंगसेंग 0.07 फीसद की गिरावट के साथ 28205 और ताइवान का कोस्पी 0.65 फीसद की गिरावट के साथ 2274 पर कारोबार कर रहा है। वहीं, अमेरिकी बाजार भी गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुआ है। प्रमुख सूचकांक डाओ जोंस 0.03 फीसद की गिरावट के साथ 25058, स्टैंडर्ड एंड पुअर्स500 0.09 फीसद की गिरावट के साथ 2801 के स्तर पर और नैस्डैक 0.07 फीसद की गिरावट के साथ 7820 पर कारोबार कर बंद हुआ है।

एफएमसीजी शेयर्स में खरीदारी

सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो बैंक, ऑटो, आइटी और फार्मा को छोड़ अन्य सभी सूचकांक हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा खरीदारी एफएमसीजी (1.04 फीसद) शेयर्स में है। फाइनेंशियल सर्विस (0.03 फीसद), मेटल (0.04 फीसद), पीएसयू बैंक (0.65 फीसद), प्राइवेट बैंक (0.20 फीसद) और रियल्टी (0.19 फीसद) के शेयर्स में बढ़त है।

यूपीएल टॉप गेनर

निफ्टी में शुमार शेयर्स की बात करें तो 24 हरे निशान, 15 गिरावट और एक बिना किसी परिवर्तन के कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा तेजी यूपीएल, एशियनपेंट, आइटीसी, आइसीआइसीआइ बैंक और कोटक बैंक के शेयर्स में है। वहीं, एचडीएफसी बैंक, विप्रो, एचडीएफसी, ओएनजीसी और रिलायंस के शेयर्स में गिरावट है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

छोटे व्‍यापारियों की दूर होंगी मुश्किलें, GST काउंसिल ने रिटर्न फॉर्म पर लिया यह फैसला

नई दिल्‍ली: व्‍यापारियों के लिए अच्‍छी खबर है. जीएसटी (GST)