250 अंक से ज्यादा गिरकर सेंसेक्स हुआ बंद

- in कारोबार

नई दिल्ली। मंगलवार के सत्र में भारतीय शेयर बाजार अमेरिका और चीन के बीच टैरिफ वॉर की बढ़ती चिंताओं के चलते गिरावट के साथ बंद हुआ है। बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का इंडेक्स सेंसेक्स 250 अंक से ज्यादा टूटकर और जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का इंडेक्स निफ्टी 90 अंक गिरकर 10,710.45 के स्तर पर कारोबार कर बंद हुआ है। सबसे ज्यादा मुनाफावसूली अदानीपोर्ट्स और वेदांता लिमिटेड के शेयर्स में हुई है। अदानी पोर्ट्स का काउंटर दो फीसद की गिरावट के साथ 362.65 के स्तर पर और वेदांता लिमिटेड 3.55 फीसद की गिरावट के साथ 224.05 के स्तर पर कारोबार कर बंद हुआ है। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप 1.22 फीसद और स्मॉलकैप 1.48 फीसद की गिरावट के साथ बंद हुआ है।250 अंक से ज्यादा गिरकर सेंसेक्स हुआ बंद

रियल्टी शेयर्स में बिकवाली

सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो सभी सूचकांक लाल निशान में कारोबार कर बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा बिकवाली रियल्टी शेयर्स (2.01 फीसद) में हुई है। बैंक (0.54 फीसद), ऑटो (1.10 फीसद), फाइनेंशियल सर्विस (0.31 फीसद), एफएमसीजी (0.21 फीसद), आईटी (1.25 फीसद), मेटल (1.57 फीसद), फार्मा (0.70 फीसद), पीएसयू बैंक (1.57 फीसद) और प्राइवेट बैंक (0.57 फीसद) की गिरावट हुई है। 

वेदांता लिमिटेड टॉप लूजर

निफ्टी में शुमार शेयर्स की बात करें तो 8 हरे निशान और 42 गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा तेजी बजाज फाइनेंस, गेल, आईटीसी, एचडीएफसी और पावरग्रिड के शेयर्स में हुई है। वहीं, वेदांता लिमिटेड, आईओसी, हिंदपेट्रो, यूपीएल और एमएंडएम के शेयर्समें गिरावट हुई है।

करीब दो बजे

भारतीय शेयर बाजार में गिरावट जारी है। बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का इंडेक्स सेंसेक्स करीब 200 अंक तक टूट गया है वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का इंडेक्स निफ्टी 70.80 अंक की गिरावट के साथ 10,728.75 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। इस दौरान सबसे ज्यादा बिकवाली बजाज ऑटो और वेदांता लिमिटेड के शेयर्स में है। बजाज ऑटो का काउंटर 1.80 फीसद की गिरावट के साथ 2849 के स्तर पर और वेदांता लिमिटेड 2.26 फीसद की कमजोरी के साथ 224.50 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

अमेरिका और चीन के बीच बढ़ती ट्रेड वार की आशंका के बीच मंगलवार को  भारतीय शेयर बाजार दबाव में काम कर रहा है। मंगलवार सुबह बीएसई सेंसेक्स सुबह 4.21 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 35,552.47 पर जबकि एनएसई का निफ्टी 10.4 अंकों की कमजोरी के साथ 10,789.45 पर खुला। सेंसेक्स में विप्रो, इंफोसिस, वेदांता और अडाणी पोर्ट्स के शेयरों में 1.5 से 2.5 फीसद तक की गिरावट आई है वहीं ओएनजीसी, यस बैंक, टाटा मोटर्स, भारती एयरटेल और टाटा मोटर्स के शेयरों में तेजी दर्ज की गई है। सेंसेक्स के बैंकिंग और ऑटो इंडेक्स में करीब 100 से अधिक अंकों की गिरावट आई है। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप इंडेक्स 0.47 फीसद और स्मॉलकैप 0.49 फीसद की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। 

क्यों फिसला बाजार?

भारतीय शेयर बाजार में गिरावट के मुख्य कारण बीते 6 दिनों में भारी संख्या में विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) की ओर से 6800 करोड़ रुपये की निकासी, डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये में कमजोरी और अमेरिका-चीन के बीच बढ़ती ट्रेड वार की आशंका हैं।

वैश्विक बाजार का हाल

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से नये टैरिफ लगाने की घोषणा के बाद से चीन के शेयर बाजार एक फीसद से ज्यादा टूट गए। इसी के चलते तमाम एशियाई बाजार में मिले जुले संकेत देखने को मिल रहे हैं। करीब 9 बजे जापान का निक्केई 0.87 फीसद की कमजोरी के साथ 22482 के स्तर पर, चीन का शांघाई 2.48 फीसद की कमजोरी के साथ 2946 के स्तर पर, हैंगसैंग 1.89 फीसद की कमजोरी के साथ 29735  के स्तर पर और तायवान का कोस्पी 0.67 फीसद की कमजोरी के साथ 2360 के स्तर पर कारोबार कर रहे हैं। वहीं, बीते सत्र में अमेरिकी शेयर बाजार भी मिले जुले संकेतों के साथ कारोबार कर बंद हुआ है। प्रमुख सूचकांक डाओ जोंस 0.41 फीसद की कमजोरी के साथ 24987 के स्तर पर, एसएंडपी500 0.21 फीसद की कमजोरी के साथ 2773 के स्तर पर और नैस्डैक 0.01 फीसद की बढ़त के साथ 7747 के स्तर पर कारोबार कर बंद हुआ है।  

मेटल शेयर्स में बिकवाली

सेक्टोरल इंडेक्स की बात करें तो फार्मा को छोड़ सभी सूचकांक लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा बिकवाली मेटल शेयर्स (0.92 फीसद) में देखने को मिल रही है। बैंक (0.26 फीसद), ऑटो (0.46 फीसद)स फाइनेंशियल सर्विस (0.15 फीसद), एफएमसीजी (0.14 फीसद), आईटी (0.17 फीसद), पीएसयू बैंक (0.54 फीसद), प्राइवेट बैंक (0.39 फीसद) और रियल्टी (0.84 फीसद) की कमजोरी है।

हिंद पेट्रो टॉप लूजर

निफ्टी में शुमार दिग्गज शेयर्स की बात करें तो 11 हरे निशान और 39 गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा तेजी ल्यूपिन, बजाज फाइनेंस, डॉ रेड्डी, टाटा मोटर्स और टाटा स्टील के शेयर्स में है। वहीं, हिंदपेट्रो, बीपीसीएल, आईओसी, वेदांता लिमिटेड और आयशर मोटर्स के शेयर्स में गिरावट है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अरुण जेटली ने कहा- NBFC में तरलता बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगी सरकार

निवेशकों की चिंता को कम करने के लिहाज