SC का ऑर्डर नहीं माना गया तो अराजकता फैलेगी: केजरीवाल

- in राष्ट्रीय

पिछले दिनों केंद्रशासित प्रदेशों में उपराज्यपाल और मुख्यमंत्री के अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शुक्रवार को सीएम केजरीवाल, एलजी अनिल बैजल से मुलाकात की. अनिज बैजल से मुलाकात के दौरान अरविंद केजरीवाल उनसे दिल्ली के कामों में सहयोग करने और सुप्रीम कोर्ट की ओर से जारी किए गए दिशा-निर्देशों का पालन करने समेत कई मुद्दों पर बातचीत की.  
 
उपराज्यपाल से मुलाकात के बाद केजरीवाल ने कहा, “एलजी से मिलकर आ रहा हूं. जब मैंने उनसे कहा कि जजमेंट के बाद सारी फाइल एलजी के पास नहीं जाएंगी. क्या आप इससे सहमत हैं? खुशी की बात है कि उपराज्यपाल इस पर सहमत हो गए.”

हालांकि ट्रांसफर और पोस्टिंग के मुद्दे पर केजरीवाल को निराशा हाथ लगी. दूसरा अहम मुद्दा अधिकारियों की ट्रांसफर-पोस्टिंग का था. इस पर उपराज्यपाल ने मानने से इनकार कर दिया. बकौल केजरीवाल, “उन्होंने कहा कि मैं तो गृहमंत्रालय की बात मानूंगा. केंद्र का प्रतिनिधि हूं.” 

केजरीवाल ने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा हो रहा होगा कि केंद्र सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर को मानने से इनकर कर दिया होगा. इससे तो अराजकता फैल जाएगी. 

एक बार फिर MP सरकार, सरकारी स्कूलों की यूनिफार्म बदलने की बना रही हैं योजना…

इससे पहले, केजरीवाल सरकार ने राशन की होम डिलीवरी योजना को शुरू करने के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए. इस योजना को शुरू करने के लिए उपराज्यपाल की मंजूरी भी नहीं ली गई. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारियों को आदेश दिया है कि वह राशन उपभोक्ताओं को राशन की होम डिलीवरी करने की व्यवस्था करें. वहीं उन्होंने विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे इस योजना की प्रगति के संबंध में उन्हें रोज रिपोर्ट दें. इस संबंध में इस संबंध में उन्होने ट्विट के जरिए आम लोगों को भी जानकारी दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच