Home > राज्य > एक साल में कम से कम तीन हरियाणवी फिल्म बनाएंगे सतीश कौशिक

एक साल में कम से कम तीन हरियाणवी फिल्म बनाएंगे सतीश कौशिक

करनाल। अपनी अदाकारी से लोगों को गुदगुदाने वाले और बतौर डायरेक्टर व प्रोड्यूसर बेहतरीन फिल्मों की सौगात देने वाले सतीश कौशिक करनाल पहुंचे। उन्होंने सिविल लाइन थाने में हरियाणवी कल्चर पर आधारित फिल्म ‘छोरियां छोरों से कम नहीं होती’ फिल्म की शूटिंग की। फिल्म के कुछ महत्वपूर्ण सीन यहां फिल्माए गए।

एक साल में कम से कम तीन हरियाणवी फिल्म बनाएंगे सतीश कौशिकपत्रकारों से बातचीत में सतीश कौशिक ने कहा कि हरियाणा की फिल्म पॉलिसी जल्द ही लागू होने वाली है। इससे हरियाणवी फिल्म इंडस्ट्री को स्थापित होने में मदद मिलेगी। आज करीब हर राज्य की फिल्में दर्शकों को आकर्षित कर रही हैं। यहां तक की मेघालय की फिल्में भी दर्शकों को लुभा रही हैं। हरियाणा इस दौड़ में पिछडऩा नहीं चाहिए। उनकी यह फिल्म नए आंदोलन की शुरुआत है। मकसद है कि उनकी कंपनी बी सतीश कौशिक एंटरटेंमेंट साल में कम से कम तीन हरियाणवी फिल्म बनाए, ताकि प्रदेश की फिल्मों और यहां के कलाकारों का बढ़ावा मिल सके। ऐसा प्रावधान भी करने की योजना है कि हरियाणा के सभी थियेटर इन फिल्मों को दिखाएं।

फिल्म के 80 फीसद कलाकार हरियाणा के

सतीश कौशिक ने बताया कि उनका सपना है कि अब अपने हरियाणा के लिए कुछ काम किया जाए। इसलिए इस फिल्म में 80 फीसद कलाकार हरियाणा से लिए हैं, ताकि यहां के टैलेंट को भी दुनिया जान सके। हरियाणा के गांव में जन्मे प्रवेश राजपूत के डायलॉग फिल्म में नई जान डालते हैं। राजू पंजाबी, राजेंद्र फौगाट व जानवी सांगवान सहित कई कलाकार हरियाणा से हैं।

सावधान इंडिया के 18 एपिसोड में काम कर चुके पुलिसकर्मी अमर कटारिया ने अपनी अदाकारी से फिल्म को बेहतरीन बनाने में मदद की है। करनाल का शिवम शर्मा उर्फ कबीर भी इस फिल्म में रोल कर रहा है। यह फिल्म 50 फीसद पूरी हो चुकी है। कुरुक्षेत्र, शाहाबाद में भी इसकी शूङ्क्षटग हो चुकी है। मधुबन पुलिस अकादमी में भी इसके दृश्य फिल्माए जाएंगे। सतीश कौशिक ने बताया कि अक्टूबर तक यह फिल्म रिलीज हो जाएगी।

बेटी के संघर्ष पर आधारित है फिल्म

सतीश कौशिक ने बताया कि यह फिल्म हरियाणा की बेटी के संघर्ष को दिखाती है। वह अभिनेत्री के बाप के रोल में हैं, जो नहीं चाहता कि बेटी पढ़े, लेकिन फिर भी वह टॉप करती है। वह आइपीएस बनने के ख्वाब बुनती है। विपरीत परिस्थितियों के बावजूद इसे पूरा भी करती है। दिखाती है कि छोरियां छोरों से कम नहीं हैं।

विधि देशवाल ने गाने और अभिनय से बांधा समां

मेरे यार सुदामा रे गाना गाकर सुर्खियों में आई विधि देशवाल ने इस फिल्म में हीरोइन के बचपन का रोल निभाया है। कौशिक ने बताया कि हरियाणा की इस बच्ची की आवाज में जादू है। इसलिए उसका गाना भी फिल्म में रहेगा। डायरेक्टर राजेश बब्बर के निर्देशन में बन रही फिल्म को जी स्टूडियो प्रेजेंट कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः हरियाणा में सभी दुष्कर्म पीड़िताओं को सुरक्षा कवच देने की तैयारी

Loading...

Check Also

दिल्ली के मेदांता अस्पताल में भर्ती, नेता विरोधी दल रामगोविन्द चौधरी के स्वास्थ्य लाभ के लिए दुआएं जारी

जनपद मऊ l दिल्ली के मेदांता अस्पताल में भर्ती नेता विरोधी दल रामगोविन्द चौधरी के …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com