रोहतक गुरुकुल में छात्रों के यौन शोषण का मामला आया सामने, SIT करेगी जांच

- in अपराध

रोहतक। जिले के लाढौत गुरुकुल में छठी और सातवीं कक्षा के छात्रों के यौन शोषण के मामले की जांच एसआइटी करेगी। इसके लिए डीएसपी के नेतृत्‍व में एसआइटी गठित की गई है। इस मामले में पांच आरोपित सीनियर छात्रों और हॉस्‍टल के वार्डन को गिरफ्तार कर लिया गया है। दूसरी ओर, यौन शोषण के शिकार बच्‍चों ने गुरुकुल के हॉस्‍टल में खुद पर ढ़ाये गए जुल्‍मों के बारे में बताया ताे बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) की टीम के सदस्‍यों के राेंगटे खड़े हो गए।रोहतक गुरुकुल में छात्रों के यौन शोषण का मामला आया सामने, SIT करेगी जांच

यौन शोषण के शिकार छह बच्‍चों ने गुरुकुल छोड़ दिया है। पुलिस ने बताया कि बौंद कला का एक छात्र मुख्य आरोपित है। डीएसपी ने बताया है कि गुरुकुल के अन्य छात्रों व स्टाफ से भी पूछताछ की जाएगी। गुरुकुल के 10 वीं से 12 वीं क्लास के सात छात्रों पर छठी और सातवीं कक्षा के छह छात्राें का यौन शोषण करने का अारोप है।

बच्‍चों पर होता था दिल दहला देने वाला अत्‍याचार

प‍ीडि़त बच्‍चों ने बताया कि गुरुकुल में छोटी सी गलती पर भी उनकी पैंट उतारकर पिटाई की जाती है। मम्मी-पापा से बात नहीं करने देते हैं। अपने साथ हुए जब अभद्र व्यवहार की शिकायत वार्डन से की थी तो वार्डन ने बहुत पिटाई की थी। किसी से भी बताने के लिए मना कर दिया था। इतना पीटा है कि शरीर पर नीले निशान पड़ गए। किसी को भी यह बात नहीं बताने के लिए धमकाया।

बच्‍चों की आपबीती सुनकर गुरुकुल में जांच करने पहुंची बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) की टीम के सदस्‍यों की अांखें भर आईं। बच्चों ने काउंसलिंग के दौरान कमरे में पंखा न होने और अधिक मच्छर काटने से बीमार पड़ने की शिकायत की। दूसरी ओर, इस मामले में आरोपित वार्डन को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने आरोपित बच्चों का भी मेडिकल कराया और उन्हें जेजे बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत किया है।

बाल कल्याण समिति की टीम ने गुरुकुल का किया निरीक्षण, बच्चों की हुई काउंसलिंग

बाल कल्याण समिति की टीम निरीक्षण के दौरान गुुरुकुल में बड़ी खामियां उजागर हुईं। पीडि़त बच्चों के बयान दर्ज किए गए और उनकी काउंसलिंग हुई। इसके बाद पीडि़त बच्चों ने गुरुकुल छोड़ दिया। इस दौरान गुरुकुल के प्रिंसीपल नहीं मिले। अन्य बच्चों के परिजन भी अपने बच्चों को लेने के लिए पहुंचे थे। इस मामले के सामने आने के बाद अन्य दूसरे बच्चों ने भी गुरुकुल छोड़ना शुरू कर दिया है।

आरोपित बच्चों के परिजनों ने किया हंगामा

निरीक्षण के बाद जब आरोपित बच्चों को पुलिस जेजे बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत करने के लिए गुरुकुल से लेकर जाने लगी तो उनके परिजनों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने अपने बच्चों पर झूठे आरोप लगाने की बात कही। इसके बाद पुलिस उन परिजनों को भी अपने साथ ले गई। पुलिस ने आरोपित सभी पांच बच्चों का मेडिकल कराया और उन्हें जेजे बोर्ड सामने प्रस्तुत किया।

गुरुकुल में पढ़ते हैं करीब 200 बच्चे

गुरुकुल को सीबीएसई बोर्ड से मान्यता मिली है लेकिन निरीक्षण के प्रबंधन कोई भी रिकॉर्ड नहीं प्रस्तुत कर पाया। इस आवासीय शिक्षण संस्थान में पांचवीं से लेकर बारहवीं तक की कक्षा में करीब 200 बच्चे पढ़ते हैं। पीडि़त बच्चों के अलावा अब सीडब्ल्यूसी अन्य बच्चों से पूछताछ करेगी। इसमें प्रदेश के दूसरे कई जिलों के अलावा उत्तर प्रदेश के बच्चे भी पढ़ाई करते हैं। 

” ऐसी घटनाओं से छवि धूमिल हो रही है। संस्थान का उद्देश्य अच्छा कार्य करने के लिए होता है। जिसने गलती की है, उसे बख्शा नहीं जाएगा। जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

” आरोपित वार्डन सचिन को गिरफ्तार कर लिया गया है। पीडि़त बच्चों का मेडिकल कराने के बाद उन्हें परिजनों को सौंप दिया है। इसके अलावा आरोपित बच्चों का भी मेडिकल कराया गया है। उन्हें जेजे बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

                                                                                                    – मंजीत सिंह, थाना प्रभारी, सदर। 

” सभी बच्चों के बयान दर्ज किए हैं। उनका अध्ययन किया जाएगा। निरीक्षण में खामियां सामने आई हैं। बच्चों को बुरी तरह से पीटा गया है। चोट के निशान मिले हैं। उन्हें परिजनों के हवाले कर दिया है। गुरुकुल प्रशासन ने सहयोग नहीं किया है। इस दौरान प्रिंसीपल नदारद रहे। गुरुकुल के बारे में रिकॉर्ड मांगा गया तो प्रबंधन यह प्रस्तुत ही नहीं कर पाया। इसके लिए इन्हें कारण बताओ नोटिस भी जारी किया जाएगा। आरोपित छात्राें के भी बयान दर्ज किए जाएंगे।

                                                           – डाॅ. राजसिंह सांगवान, चेयरमैन, बाल कल्याण समिति, रोहतक।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बेटी के पति पर आया सास का दिल, फिर उसके बच्चे की मां बनने के लिए कर डाला ये सब…

मप्र में जनसुनवाई के दौरान रिश्तों को कलंकित