पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम पर पेट्रोलियम मंत्री बोले- जीएसटी में लाना जरूरी

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार इजाफा हो रहा है। इसने सरकार की मुश्किलें बढ़ा रखी हैं। कांग्रेस के अलावा बाकी विपक्षी दल भी सरकार को इस मुद्दे पर घेर रहे हैं। इसे लेकर ही कांग्रेस ने दस सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया है।

इस बीच पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने की बात कर रहे हैं। पेट्रोल-डीज़ल की रोजाना आसमान छूती कीमतों से आम आदमी को जेब पर बोझ बढ़ता जा रहा है। ऐसे में लोगों का गुस्सा भी सरकार पर फूट रहा है। हालांकि पेट्रोलियम मंत्री ने इस कीमतों की वृद्धि के पीछे का कारण भी बताया।

डॉलर की मजबूती से पड़ रहा असर

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, “आज अन्य मुद्राओं की तुलना में भारतीय मुद्रा हमेशा की तरह मजबूत है। लेकिन हम तेल कैसे खरीदते हैं? डॉलर के माध्यम से। आज डॉलर, एक तरह से, विश्व की सबसे मजबूत मुद्रा है। यह हमारे लिए समस्या पैदा कर रहा है।’ जिसका मतलब है कि डॉलर के मुकाबले रुपये का गिरना, कहीं न कहीं पेट्रोल-डीजल के दामों की बढ़ोतरी का एक कारण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राहुल गाँधी के बचाव में आये ये नेता, बोले- पहले अपना ज्ञान बढ़ाये अमित शाह

नई दिल्‍ली। भारत में आगामी चुनाव बेहद काफी नजदीक