CBSE पेपर लीकः दिल्ली-NCR में कई जगहों पर हुई छापेमारी, इन लोगों पर उठे सवाल

CBSE बोर्ड के इकोनॉमिक्स और मैथ्स के पेपर लीक हो जाने के बाद दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कमर कस ली है. पेपर लीक हो जाने के कुछ घंटे बाद क्राइम ब्रांच ने दिल्ली-एनसीआर के 10 स्थानों पर छापेमारी की. सूत्रों ने अनुसार क्राइम ब्रांच की जांच इस बात पर ध्यान केंद्रित कर रही है कि पेपर कैसे लीक हो गए थे. क्राइम ब्रांच ने पेपर लीक की जांच को भागों में बांटा है.

CBSE पेपर लीकः दिल्ली-NCR में कई जगहों पर हुई छापेमारी, इन लोगों पर उठे सवाल1. बोर्ड का पेपर लीक सीबीएसई मुख्यालय से हो सकता है.

2. पेपर लीक परीक्षा केंद्र, सतर्कता दस्ता और स्कूल स्टाफ के जरिए हो सकता है.

3. सीबीएसई के स्टाफ के साथ मिले हुए ट्यूटोरियल और कोचिंग केंद्रों द्वारा भी पेपर लीक हो सकता है.

बता दें कि क्राइम ब्रांच प्रश्नपत्र लीक मामले के सिलसिले में कई लोगों पर सवाल उठा रहा है, जिसके लिए जांच शुरू कर दी गई है. दिल्ली पुलिस ने सीबीएसई कक्षा की 10वीं और 12वीं के प्रश्नपत्र लीक के सिलसिले में दो मामले दर्ज किए हैं.

दिल्ली पुलिस ने कहा, “क्षेत्रीय निदेशक सीबीएसई की शिकायत पर, भारतीय दंड संहिता की धारा 406, 420 और 120 बी के तहत मामला दर्ज किया गया है और इस मामले की जांच के लिए एक विशेष जांच दल का गठन किया गया है.

वहीं केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि सीबीएसई ने पेपर लीक रोकने के लिए कड़े कदम उठाए हैं. साथ ही बोर्ड अब परीक्षा के आयोजन में नया पैटर्न अपनाने की तैयारी कर रहा है. बता दें कि 12वीं इकनॉमिक्स की परीक्षा 27 मार्च और 10वीं गणित की परीक्षा 28 मार्च को हुई थी, जिसके बाद पेपर लीक होने की खबर सामने आई.

पेपर लीक की खबरों के बीच सीबीएसई ने 10वीं कक्षा की गणित और 12वीं कक्षा की अर्थशास्त्र की परीक्षा दोबारा कराने का फैसला किया है. सीबीएसई ने बताया है कि परीक्षा की तारीख की घोषणा एक सप्ताह के भीतर वेबसाइट पर कर दी जाएगी.

अब ऐसे होगी परीक्षा

पूरे प्रकरण पर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि सीबीएसई पेपर लीक रोकने के लिए सरकार ने कड़े कदम उठाए हैं. उन्होंने कहा, ‘इलेक्ट्रॉनिकली कोडेड पेपर एग्जामिनेशन सेंटर्स को भेजा जाएगा. वहीं परीक्षा से आधा घंटे पहले सेंटर्स को इलेक्ट्रॉनिक पेपर भेजा जाएगा. सीबीएसई का पेपर पासवर्ड प्रूफ होगा. सेंटर पर ही प्रिंट आउट निकालकर छात्रों को एग्जाम पेपर बांटा जाएगा.’

अकाउंट्स के पेपर लीक की भी आई थी खबर

इकोनॉमिक्स के पेपर से पहले अकाउंट्स के पेपर लीक होने की खबरें आई थीं, जिसके बाद सीबीएसई ने आधिकारिक नोटिफिकेशन जारी करते हुए कहा था कि पेपर लीक की खबर गलत है. साथ ही बोर्ड ने एफआईआर करवाने का फैसला भी लिया था. गौरतलब है कि सीबीएसई 5 मार्च से बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन कर रहा है और इस बार परीक्षा में लाखों उम्मीदवार भाग ले रहे हैं.

Loading...

Check Also

भारत को मिलने वाले राफेल विमान का FIRST LOOK आया सामने...

भारत को मिलने वाले राफेल विमान का FIRST LOOK आया सामने…

भारत को मिलने वाले जिस राफेल विमान को लेकर फ्रांस तक घमासान मचा हुआ है, उसने …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com