पंजाब सरकार की अवैध कालोनियों को रैगुलर करने के लिए नई नीति को लेकर बनी सहमति

- in पंजाब

नई दिल्ली । पंजाब सरकार द्वारा अवैध कालोनियों को रैगुलर करने के लिए बनाई नई नीति पर विचार-विमर्श के बाद कुछ तबदीलियों के पश्चात इस पर सहमति बन गई है। आज यहां पंजाब भवन में अवैध कालोनियों को रैगुलर करने के लिए कालोनाइजरों के साथ आवास निर्माण और शहरी विकास मंत्री तृप्त राजेंद्र सिंह बाजवा की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में कुछ विधायक भी शामिल हुए।

मीटिंग उपरांत पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में तृप्त बाजवा ने बताया कि अवैध कालोनियों को रैगुलर करने के लिए नई नीति के मसौदे को कुछ तबदीलियों के साथ मीटिंग में मौजूद मंत्री साहिबान और विधायकों ने सहमति दे दी है। 

बाजवा ने बताया कि नीति के सुधारे हुए मसौदे को इसी सप्ताह मुख्यमंत्री के पास भेज दिया जाएगा, जिसके बाद इसको मंत्रिमंडल की स्वीकृति के लिए पेश किया जाएगा। तृप्त बाजवा ने बताया कि इस नीति को बनाते समय मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह द्वारा दी गई हिदायतों और चुनाव मैनीफैस्टो में किए वायदे को ध्यान में रखते हुए लोगों और कालोनाइजरों को बड़ी राहत दी गई है।

उन्होंने साथ ही बताया कि नीति बनाते समय सभी संबंधित पक्षों के हितों की रक्षा करना यकीनी बनाने का यत्न किया गया है। तृप्त बाजवा ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा लाई जा रही नीति में कालोनियों को विकसित करने वालों के सुझावों को लागू करने के साथ-साथ वहां रहते लोगों के हितों की रक्षा करने को पहल दी गई है।

मीटिंग की शुरूआत में ग्माडा के अधिकारियों ने अवैध कालोनियों को रैगुलर करने के लिए नया मसौदा पेश किया जिस पर मंत्रियों और विधायकों ने अपने विचार रखे। इसके अलावा प्रॉपर्टी डीलर एंड कालोनाइजर्ज एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने भी अपने सुझाव पेश किए। इसके उपरांत फैसला किया गया कि जिन सुझावों पर सबकी सहमति हुई है उनको नई नीति का हिस्सा बनाकर मुख्यमंत्री के पास भेज दिया जाए।

इस अवसर पर प्रापर्टी डीलर एंड कालोनाइजर्ज एसोसिएशन ने पंजाब सरकार द्वारा लाई जा रही नीति का स्वागत किया और भरोसा दिलवाया कि भविष्य में कोई भी कालोनाइजर अवैध तरीकों से कालोनी विकसित नहीं करेगा।

मीटिंग में नवजोत सिंह सिद्धू, सुखविंद्र सिंह सरकारिया, बलबीर सिंह सिद्धू, भारत भूषण आशु, श्याम सुंदर अरोड़ा, विजय इंद्र सिंगला, मुख्यमंत्री के सलाहकार कैप्टन संदीप संधू, सुशील रिंकू और कुलदीप वैद्य (विधायक) के अलावा विन्नी महाजन अतिरिक्त मुख्य सचिव, आवास निर्माण और शहरी विकास, रवि भगत मुख्य प्रबंधक पुड्डा/ग्माडा, टी.पी.एस. फूलका, डायरैक्टर टाऊन एंड कंट्री प्लाङ्क्षनग, गुरप्रीत सिंह, मुख्य टाऊन प्लानर, पंजाब और विभाग के अन्य उच्च अधिकारी मौजूद थे।   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कांग्रेस कार्यकर्ता के साथ मारपीट करने पर अकाली दल प्रमुख के खिलाफ FIR हुई दर्ज

मुख़्तसर: जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों के दौरान