तेजस्वी यादव ने बुलाई RJD की अहम बैठक, SC/ST एक्ट और आरक्षण पर होगी चर्चा

- in बिहार, राजनीति

शैलेन्द्र/पटना : राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) की 11 सितंबर को होने वाली बैठक में तीन मुख्य मुद्दों पर मंथन होगा. इसमें पहला और बड़ा मुद्दा आर्थिक रूप से गरीब सवर्णों को आरक्षण देने की मांग शामिल है. बैठक के एजेंडे में एससी/एसटी एक्ट और 2019 के लोकसभा चुनाव की रणनीति तैयार करना भी शामिल है. इसके लिए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से फीडबैक लिया जाएगा. बैठक में विशेष तौर पर पार्टी के जिलाध्यक्षों को बुलाया गया है.

तेजस्वी यादव की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में पार्टी आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों के आरक्षण के मुद्दे पर अपनी लाइन तय करेगी. इस मुद्दे पर अभी पार्टी अलग-थलग दिखाई पड़ रही है, क्योंकि कांग्रेस ने खुले तौर पर गरीब सवर्णों को आरक्षण देने की वकालत की है. लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) जैसे दलों के नेता भी खुलकर गरीब सवर्णों को आरक्षण देने के लिए आवाज उठा रहे हैं.

यह मुद्दा भले ही चूनावी माना जा रहा है, लेकिन आरजेडी नेताओं का अभी तक जैसा रुख रहा है, उससे सवर्ण वोटर उससे दूरी बना रहे हैं. पार्टी के खिलाफ सोशल मीडिया पर भी आक्रोश देखने को मिला है. हालांकि अभी तक आरजेडी की ओर से इस मुद्दे पर आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा गया है. माना जा रहा है कि पार्टी की बैठक में इसपर फैसला लिया जाएगा.

एससी/एसटी एक्ट को लेकर जिस तरह से पूरे देश मे बहस चल रही है, उसपर भी आरजेडी की बैठक में चर्चा होगी. केंद्र सरकार की ओर से पेश किए गए अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट ने परीक्षण करने के लिए कहा है. कोर्ट का आगे किस तरह का रुख रहता है, ये तो आनेवाले दिनों में पता चलेगा. आरजेडी की अभी सबसे बड़ी चिंता इस बात की है कि इसका पूरा श्रेय केंद्र सरकार के खाते में नहीं चला जाए. यही वजह है कि आरजेडी के नेता इस मुद्दे पर खुलकर अपनी राय रखते हैं, क्योंकि उनके समर्थकों का बड़ा धरा इसी वर्ग से आता है. इसलिए इस मुद्दे को पार्टी किसी भी कीमत पर गवाना नहीं चाहती है.

आरजेडी बिहार में महागठबंधन का सबसे बड़ा सहयोगी है. कई दल साथ होने की वजह से सीट बंटवारे को लेकर मनमुटाव होना तय माना जा रहा है. बैठक के दौरान इस पर भी मंथन होगा. पार्टी के जिलाध्यक्ष बैठक के दौरान जमीनी हकीकत से पार्टी नेतृत्व को अवगत कराएंगे. पार्टी के नेता और पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने बताया कि बैठक बहुत महत्वपूर्ण है. विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव की ओर से बुलाई गई बैठक में पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे. उन्होंने कहा कि बैठक के दौरान कई महत्वपूर्ण फैसले पार्टी ले सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा तैयार कर रही लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों की सूची

भाजपा के खिलाफ विपक्षियों के महागठबंधन से अलग