दुष्कर्म के आरोपी की रीवा सेंट्रल जेल में मौत, परिजनों ने की मारपीट

- in मध्यप्रदेश

रीवा : सेंट्रल जेल में दुष्कर्म के मामले में बंद विचाराधीन कैदी की मौत हो गई। कैदी की मौत के बाद आक्रोशित परिजनों ने जमकर हंगामा किया और जेल प्रशासन पर हत्या का आरोप लगाते हुए संजय गांधी अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करवाने पहुंचे डिप्टी जेलर रमेश कुमार की साथ मारपीट की।
डिप्टी जेलर रमेश कुमार ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि मृतक रामगोपाल पांडेय को त्योंथर थाना पुलिस ने 18 अगस्त को दुष्कर्म की शिकायत पर गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद 19 अगस्त को उसे रीवा सेंट्रल जेल भेजा गया था। बुधवार को कैदी गोपाल की अचानक तबियत बिगड़ी, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। जेल प्रशासन शव का पोस्टमार्टम करवाने के लिए संजय गांधी अस्पताल लेकर आए, जहां परिजनों ने उनसे मारपीट की।

मृतक के भाई ने बताया कि रामगोपाल पांडेय त्योंथर में पीडबल्यूडी विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी था जो कि शुगर का मरीज था। उसके भाई की पत्नी द्वारा उसकी बेटी से दुष्कर्म की शिकायत थाने में की गई, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। जेल में मृतक की पत्नी उससे मिली तो उन्होंने जेल में मारपीट होने का बात बताई।

मृतक की पत्नी ने जेलर से मुलाकात कर गोपाल को अस्पताल में भर्ती करवाने का निवेदन किया, क्योंकि गोपाल शुगर का मरीज था और उसकी तबियत ठीक नहीं रहती थी, लेकिन जेल प्रशासन ने ऐसा नहीं किया, जिससे उसकी मौत हो गई। डिप्टी जेलर ने कहा कि जेल में कैदी गोपाल से किसी प्रकार की मारपीट नही हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

भाजपा को ‘अपने’ से ही खतरा, पूर्व MLA गिरजा शंकर बिगाड़ सकते हैं खेल

सोहागपुर मध्य प्रदेश के हौशंगाबाद जिले में आता है. सोहागपुर