पिच फिक्सिंग पर बोले रणतुंगा, श्रीलंका क्रिकेट में शीर्ष स्तर तक फैला है भ्रष्टाचार

- in खेल

कोलंबो। विश्व कप विजेता कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने कहा कि श्रीलंका क्रिकेट में भ्रष्टाचार शीर्ष पद तक फैला है. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद पर मैच फिक्सिंग रोकने में नाकाम रहने का भी आरोप लगाया. रणतुंगा अभी सरकारी मंत्री हैं. उन्होंने कहा कि श्रीलंका में क्रिकेट में भ्रष्टाचार अल-जजीरा द्वारा रविवार को दिखाई गई डॉक्यूमेंट्री में किए गए दावों से कहीं ज्यादा बड़े स्तर पर मौजूद है.पिच फिक्सिंग पर बोले रणतुंगा, श्रीलंका क्रिकेट में शीर्ष स्तर तक फैला है भ्रष्टाचार

रणतुंगा बोले- भ्रष्टाचार रोधी इकाई से बहुत निराश

रणतुंगा ने कहा कि आरोपों की जांच होनी चाहिए. लेकिन यह लंबे समय से चल रहा होगा. यह ऐसी चीज है जो श्रीलंका में शीर्ष स्तर तक फैली है. यह तो बड़े तालाब में छोटी मछली की तरह है. हमेशा की तरह बड़ी मछली बच जायेगी.  इस डॉक्यूमेंट्री में आरोप लगाया गया है कि श्रीलंकाई खिलाड़ी और मैदानकर्मी पिच से छेड़छाड़ के षड्यंत्र में शामिल थे और भारत-इंग्लैंड और भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट के दौरान स्पाट फिक्सिंग की गयी थी.

रणतुंगा ने श्रीलंका क्रिकेट के खिलाफ पिछली शिकायतों का जिक्र करते हुए कहा कि मैं आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी इकाई से बहुत निराश हूं. वह बीते समय में भी श्रीलंका क्रिकेट के अध्यक्ष तिलंगा सुमतिपाला पर जुआ खेलने में शामिल होने के लिये आईसीसी नियमों का उल्लघंन करने का आरोप लगा चुके हैं. हालांकि इस राजनेता और व्यवसायी ने इन आरोपों से इनकार किया था. रणतुंगा ने पत्रकारों से कहा कि अगर वे यह नहीं देख सकते कि श्रीलंका में क्या हो रहा है तो उन्हें इस भ्रष्टाचार रोधी इकाई में शामिल नहीं होना चाहिए.

अल जजीरा का स्टिंग

बता दें कि अल जजीरा ने हाल ही में दिखाए एक स्टिंग ऑपरेशन में पिच फिक्सिंग का खुलासा किया था.  इस टीवी चैनल ने भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की राष्ट्रीय टीमों से जुड़े मैचों में फिक्सिंग के आरोप लगाये हैं. चैनल ने अपने स्टिंग ऑपरेशन में दावा किया है कि भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसे देश उन टीमों में शामिल हो सकते हैं जिन्हें पिछले दो साल में मैच फिक्सरों ने प्रभावित किया. इस मामले में एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर रॉबिन मौरिस का नाम आ रहा है.

जिन मैचों पर सवाल उठाया जा रहा है वे हैं- भारत और श्रीलंका के बीच गाले में 26 से 29 जुलाई 2017 तक हुआ टेस्ट, भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रांची में 16 से 20 मार्च 2017 तक हुआ टेस्ट और भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में 16 से 20 दिसंबर 2016 तक हुआ टेस्ट. गाले और चेन्नई टेस्ट में भारत ने जीत दर्ज की थी जबकि रांची में हुआ मैच बराबरी पर छूटा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान का मानना, करियर खत्म होने पर ही कोहली की सचिन से हो तुलना

क्रिकेट के महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और विराट