दिल्ली में बारिश ने तोडा 10 सालों का रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने दी भारी बारिश की चेतावनी

- in दिल्ली

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर में कल दस साल बाद जबरदस्त बारिश हुई। संभावना है कि आज भी बारिश हो सकती है। कल दिल्ली के कुछ इलाकों में और गुरुग्राम में स्थिति ऐसी हो गई थी कि जो घर में थे वो घर में फंस गये, जो दफ्तर में थे वो दफ्तर में फंस गए और जो सड़क पर थे वो तो किनारा तलाश रहे थे। एक दिन पहले दिल्ली और इसके आसपास ऐसी बारिश हुई कि पानी घर तक में घुस गया और मौसम विभाग अब जो कहा है वो और लोगों को डरा रहा है।

अनुमान ये है कि अगले 24 से 48 घंटे में दिल्ली-एनसीआर में भारी बारिश होगी। गुरुग्राम में पांच घंटे में 132 एमएम बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग के मुताबिक दस सालों में मंगलवार को सबसे ज्यादा बारिश हुई। इससे पहले 2008 में एक ही दिन में 162 मिमी. पानी बरसा था। जहां गुरुग्राम प्रशासन के बड़े बड़े दावे फेल हुए हैं वहीं, इस बारिश ने एक बार फिर 26 जुलाई 2016 जैसा हाल कर दिया। हीरो होंडा चौक पर बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए। अंडरपास में भरे पानी में 4 गाड़ियां पानी में डूब गईं। स्थिति यह हो गई कि लोगों को पानी से निकलने के लिए ट्रैक्टर व क्रेन का सहारा लिया गया।
वहीं राजधानी दिल्ली में चार घंटे बारिश हुई तो घर का सामान पानी में तैरने लग गया। दिल्ली के साथ गुरुग्राम, नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और साहिबाबाद समेत कई इलाकों में मंगलवार सुबह से हो रही बारिश से लोगों को उमस भरी गर्मी से तो काफी राहत मिली, लेकिन जगह-जगह ट्रैफिक जाम से वाहन चालकों को खासी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है।

मौसम विभाग ने कहा है कि दिल्ली के कई इलाकों में आज तेज बारिश हो सकती है। आज भी दफ्तर पहुंचने में परेशानी हो सकती है क्योंकि बारिश का पानी सड़कों पर जमा होने से ट्रैफिक जाम हो सकता है। धौला कुआं, द्वारका और जनकपुरी इलाके में भारी बारिश की संभावना है।

कुल मिलाकर आज भी हालत कल जैसी ही हो सकती है। ना आप घर से निकल सकते हैं। ना दफ्तर जा सकते हैं। ना स्कूल जा सकते हैं। एक लाइन में पूरी कहानी सिर्फ इतनी है अगर आज भी कल जैसी बारिश हुई तो पूरा शहर एक बार फिर डूब जाएगा।

सम्बंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला : दिल्ली में जल्द ही शेयरिंग कैब सर्विस पर लग सकती है पाबंदी

नई दिल्ली : दिल्ली में चल रही ऐप बेस