मानसरोवर यात्रा पर पहुंचे राहुल गांधी, ट्वीट कर कहा- जिसका बुलावा आता है वही जाता है

कैलाश मानसरोवर यात्रा पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया है. उन्होंने वहां की कुछ तस्वीरें शेयर की हैं. राहुल गांधी ने कहा कि इस धार्मिक यात्रा पर वही व्यक्ति जाता है, जिसका बुलावा आता है. उन्होंने यह भी कहा कि वह इसका अवसर पाकर बहुत खुश हैं. राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘जब बुलावा आता है तभी कोई व्यक्ति कैलाश जाता है. मैं इस बात से बहुत प्रसन्न हूं कि मुझे यह अवसर मिला और इस सुंदर यात्रा में जो देखूंगा उसे आप लोगों के साथ साझा कर सकूंगा.’ वह गत 31 अगस्त को इस यात्रा के लिए नेपाल रवाना हुए थे जहां से उन्होंने कैलाश के लिए प्रस्थान किया. दिल्ली से नेपाल के लिए रवाना होने से पहले गांधी ने ट्वीट के जरिये कहा था, “ॐ असतो मा सद्गमय. तमसो मा ज्योतिर्गमय. मृत्योर्मामृतम् गमय. ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति: ॥’

मालूम हो कि राहुल गांधी कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए शनिवार को यहां से ल्हासा के लिए रवाना हुए थे. नेपाली मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार गांधी त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से दोपहर एक बजे रवाना हुए थे. 26 अप्रैल को कर्नाटक की यात्रा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष के विमान में तकनीकी खराबी आने के कारण विमान बाईं ओर तेजी से झुक गया और तेजी से नीचे आने लगा था इसके बाद हालांकि विमान संभल गया और सुरक्षित नीचे उतरा. इसके तीन दिन बाद 29 अप्रैल को गांधी ने एक रैली के दौरान कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर जाने की घोषणा की थी.

राहुल की मानसरोवर यात्रा पर अनुराग ठाकुर ने उठाए थे सवाल

बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर ने कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर कांग्रेस के एक पूर्व विधायक के फेसबुक पोस्ट की निंदा करते हुए राहुल गांधी का ध्यान इसमें प्रदर्शित ‘‘हिन्दू विरोधी’’ भावनाओं की ओर आकर्षित किया. कांगड़ा जिले के जवाली से पूर्व कांग्रेसी विधायक नीरज भारती ने अपने पोस्ट में भगवान कृष्ण के जीवन से जुड़ी उस कहानी का उल्लेख किया जिसमें वह यमुना में गोपियों को नहाते देख रहे थे. भारती ने इसके साथ सवाल किया, ‘‘आज इसका जन्मदिन है कया?’’ गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा को स्वांग करार देते हुए संसद में भाजपा के मुख्य सचेतक ने कहा, ‘‘आपके संरक्षण में इस तरह की आपत्तिजनक पोस्ट लोगों की धार्मिक भावनाओं पर हमला है.’’ 

ठाकुर ने अपने ट्वीट के साथ दो तस्वीरें भी लगाईं जिसमें भारती को हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के साथ देखा जा सकता है. हमीरपुर से संसद सदस्य ने कहा कि कृष्ण पर भारती का विवादित पोस्ट कांग्रेस की ‘‘हिन्दू विरोधी’’ मानसिकता दिखाता है. बीजेपी नेता ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने इससे पहले राम सेतु मुद्दे पर अपनी राय के जरिये अपनी ‘‘हिन्दू विरोधी’’ मानसिकता दिखाई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बड़ी खुशखबरी: अब इस कार्ड के जरिये यात्री कर सकेंगे बस, मेट्रो और ऑटो में सफर

जल्द ही देशवासियों को एक शहर से दूसरे