अमित शाह ने कहा- राहुल बाबा बतायें देश से घुसपैठियों को निकालना चाहिये कि नहीं

पीटीडीडीयू नगर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सवाल किया है कि देश के अंदर एनआरसी होना चाहिए या नहीं। ओबीसी बिल राज्यसभा में पारित कराने में कांग्रेस सहायता करेगी या नहीं। शाह रविवार को उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले में स्थित मुगलसराय जंक्शन का नाम पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन करने के समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बटन दबाकर नए नाम का लोकार्पण किया। इस दौरान शाह ने सपा और बसपा को भी घेरा। उनके लिए भी ढेर सारे सवाल उछाले। योगी सरकार की उपलब्धियों का बखान करते हुए कहा कि 2019 के चुनाव का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर जाता है। उत्तर प्रदेश ही अगली सरकार बनाने वाला है। अमित शाह ने कहा- राहुल बाबा बतायें देश से घुसपैठियों को निकालना चाहिये कि नहीं

सौगातें

  • मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन किया गया। 11 फरवरी, 1968 को इसी जंक्शन पर पंडित दीनदयाल का शव मिला था।
  • एकात्मता एक्सप्रेस को हरी झंडी, यह ट्रेन सप्ताह में दो दिन मंगलवार व गुरुवार को पीडीडीयू जंक्शन से वाया सुलतानपुर, लखनऊ चलेगी। रात 11 बजे चलकर सुबह 5.10 बजे लखनऊ पहुंचेगी। 
  • पूरी तरह से महिला कर्मियों द्वारा संचालित देश की पहली मालगाड़ी का परिचालन शुरू
  • चंदौली के पड़ाव में 10 एकड़ जमीन पर पं. दीनदयाल उपाध्याय की स्मृति में शोध संस्थान व संग्रहालय सहित उनकी 63 फीट ऊंची प्रतिमा का शिलान्यास
  • पीडीडीयू जंक्शन यार्ड का स्मार्ट यार्ड में और रूट रिले इंटरलॉकिंग प्रणाली का उन्नयन

खास बातें

  • मुगलसराय अब पं दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन
  • भाजपा अध्यक्ष ने किया नए नाम का लोकार्पण
  • कांग्रेस के साथ-साथ सपा-बसपा को भी घेरा
  • योगी सरकार की उपलब्धियों की बखान
  • 2019 के चुनाव का रास्ता उप्र से होकर 

 कांग्रेस बताए एनआरसी हो या नहीं

अमित शाह ने कहा कि एक विवाद छिड़ गया है संसद में। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत नरेंद्र मोदी की सरकार ने नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस (एनआरसी) बनाया। एनआरसी क्या है, यह देश में से असम में से बांग्लादेशी घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकालने की व्यवस्था है। ममता बनर्जी कहती हैं,एनआरसी नहीं होना चाहिए। कांग्रेस कहती है एनआरसी नहीं होना चाहिए। मैं चार दिन से राहुल बाबा से पूछ रहा हूं, आप बताओ इस देश के अंदर एनआरसी होना चाहिए या नहीं, राहुल जवाब नहीं देते हैं। मैं सपा बसपा कांग्रेस से पूछना चाहता हूं, तय कर लो बांग्लादेशी घुसपैठियों को यहां पर रखना चाहते हो या निकालना चाहता हो। 

बुआ भतीजा इकटठा होने का भ्रम 

विपक्षी एकता के मसले पर शाह ने कहा कि आज पूरा विपक्ष देशभर में एक भ्रम फैलाने में पड़ा है कि है सपा-बसपा इकट्ठा होंगे, बुआ भतीजा इकटठा होंगे तो उत्तर प्रदेश में क्या होगा, मैं उत्तर प्रदेश को जानता हूं। बुआ-भतीजा ही नहीं, राहुल गांधी भी मिल जाए तो भी उत्तर प्रदेश में भाजपा 73 की 74  सीटें होंगी। 72 नहीं होंगी। अभी-अभी प्रधानमंत्री मोदी दो बिल लेकर आने वाले हैं, इस देश के सभी पिछड़ों को ओबीसी के तहत संवैधानिक दर्जा देने की। ये बिल राज्यसभा में जाएगा। राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि वह देश को बताएं कि ओबीसी बिल पारित करने में कांग्रेस सहायता करेगी या नहीं। मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि कांग्रेस समर्थन करे या न करे। नरेंद्र मोदी सरकार इस देश के करोड़ों पिछड़ों को ओबीसी बिल पारित कर सम्मान देने का काम करने जा रही है।

सपा-बसपा पर प्रहार करते हुए कहा कि मैं बुआ भतीजे को जब भी मैं सुनता हूं, उनकी जलन देखी नहीं जाती है। उन्हें बहुत जलन है कि हम गए और ये आ गए। पंद्रह साल तक मौका तो आपको भी दिया था। पंद्रह साल तक सिर्फ करप्शन, गुंडई और माफिया। मगर योगी आदित्यनाथ की सरकार में पूरा माफिया राज्य से बाहर भागा है। शाह ने कहा कि मुगलसराय की भूमि लाल बहादुर शास्त्री से जुड़ी है तो पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम से भी जुड़ी है। मुगलसराय की पवित्र भूमि से देश का काम होगा और बहुत सारी परियोजना की शुरुआत भी इसी भूमि से होगी। आने वाले समय में मुगलसराय विकसित क्षेत्र माना जाएगा। पूर्वांचल जब तक विकसित नहीं होगा तब तक देश की विकास कल्पना बेमानी होगी। पूर्वांचल के 70 साल में जितना पैसा खर्च नहीं हुआ, उतना पैसा मोदीजी के नेतृत्व में 4 साल में खत्म हो गया। राहुल बबा बताओ आपने क्या किया।

रेलवे में तेजी से हो रहे हो रहे कार्यों को गिनाते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि एकात्म मानववाद के प्रणेता पं. दीनदयाल की विचारधारा को आत्मसात कर आगे बढ़ रही केंद्र में मोदी और यूपी में योगी की सरकार डबल इंजन की तरह तेजी से विकास कर रही है। कार्यक्रम को रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के