जनता का फैसला मंजूर, लेकिन बैलेट पेपर से चुनाव बेहतर होता: भूपेंद्र सिंह हुड्डा

रोहतक। कर्नाटक के विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद अब हरियाणा के पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने ईवीएम पर सवाल उठाए हैं। हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस कर्नाटक की जनता के फैसले का सम्‍मान करती है, लेकिन ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से चुनाव होता तो बेहतर रहता। चुनाव आयोग लगातार सवाल उठाए जाने के बावजूद ईवीएम पर स्पष्टीकरण नहीं दे पाया है।जनता का फैसला मंजूर, लेकिन बैलेट पेपर से चुनाव बेहतर होता: भूपेंद्र सिंह हुड्डा

यहां पत्रकाराें से बातचीत में हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस कर्नाटक में जनादेश का सम्‍मान करते हैं, लेकिन ईवीएम पर उठ रहे सवाल के कारण बैलेट पेपर से चुनाव कराना सही रहेगा। हुड्डा ने हरियाणा की मनाेहरलाल सराकर पर भी निशाना साधा। उन्‍होंने प्रदेश में सफाई कर्मियों की हड़ताल पर सरकार को घेरा। उन्‍होंने कहा कि इस हड़ताल से राज्‍य में सफाई व्‍यवस्‍था का बुरा हाल है। उन्‍होंने कहा कि स्वच्‍छता अभियान में फोटो खिंचवाने वाले अब कहां हैं। प्रदेश की जनता इससे परेशान है। हुड्डा ने कहा कि प्रदेश के हालत हर लिहाज से खराब है। प्रदेश मेें हालत खराब हो रही थी अौर मुख्यमंत्री मनाेहरलाल हरियाणा छोड़कर विदेश में घूम रहे थे।

हुड्डा ने मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल द्वारा खुले में नमाज पढ़ने पर दिए गए बयान के लिए भी उनकी आलोचना की। उन्‍होंने कहा कि मुख्‍यमंत्री को इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए। यह सरकार समाज को बांटने में जुटी है। इसके लिए सरकार को व्यवस्था करनी चाहिए। हुड्डा ने हरियाणा में अपनी जनक्रांति यात्रा के दूसरे चरण के बारे में भी जानकारी दी। उन्‍हाेंने कहा कि वह अपनी जनक्रांति यात्रा का दूसरा चरण 3 जून से फिर शुरू करेंगे। इस यात्रा की शुरूअात पानीपत जिले के समालखा से होगी। इस यात्रा का उद्देश्‍य प्रदेश के लोगों की समस्‍या को उठाना है। इससे राज्‍य में कांग्रेस को मजबूती मिलेगी।

=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

हरियाणा में मृत महिला को जिंदा बता किया रेफर, एंबुलेंस बीच रास्ते में छोड़ भागा डॉक्टर

भिवानी। रोहतक रोड स्थित एक निजी अस्पताल में