राजस्थान में पंजाब से जहरीला पानी आने से बढ़ी समस्या

- in राजस्थान

जयपुर । राजस्थान के 10 जिलों में पेयजल और सिंचाई की आवश्यक्ता पूरी करने वाली इंदिरा गांधी नगर,गंगनहर और भाखडा नहर में पंजाब से आ रहा जहरीला पानी मुसीबत बन गया है। पंजाब की एक शुगर मिल ने जहरीला शीरा व्यास नदी में छोडा और इसी नदी का पानी पंजाब से राजस्थान आ रही इंदिरा गांधी नहर,गंगनहर और भाखड़ा नहर में आ गया है।राजस्थान में पंजाब से जहरीला पानी आने से बढ़ी समस्या

जहरीला पानी आने के कारण हनुमानगढ़ जिले के 245 और श्रीगांनगर जिले के 250 मोघे बंद कर दिए है,जिससे जहरीला पानी जलदाय विभाग की डिग्गियों में ना आ सके। जहरीले पानी के कारण इन तीनों नदियों में लाखों की संख्या में मछलियां मर गई है। पंजाब से आ रहे जहरीले पानी के कारण एक तरफ तो लोगों में दहशत का माहौल है, वहीं जलदाय और सिंचाई विभाग के अधिकारियों को काफी मशक्कत करनी पड रही है।

पंजाब के बटाला जिले में स्थित एक शुगर मिल का लाखों टन शीरा तीन दिन पहले व्यास नदी में आ गया और नदी के 50 किलोमीटर क्षेत्र में फैल गया । इस नदी का पानी पंजाब से राजस्थान आ रही तीनों नहरों में आता है । जानकारी के अनुसार इंदिरा गांधी नहर में मरम्मत के कारण पिछले एक माह से नहरबंदी कर रखी थी,इस कारण लोगों को पानी की समस्या का सामना करना पड रहा था।

अब जहरीले पानी के कारण हालात पहले से अधिक खराब हो गए है। अधिकारियों के अनुसार तीनों नहरों से राज्य के हनुमानगढ़,श्रीगंगानगर,चूरू,बाड़मेर,बीकानेर,जोधपुर,जैसलमेर,सीकर और झुंझुनूं आदि जलों में पानी की आपूर्ति होती है। हनुमानगढ़ जलदाय विभाग के एक्सईएन मेजर सिंह ने बताया कि पंजाब से जहरीला पानी आने से समस्या जरूर हो रही है,लेकिन पेयजल की सप्लाई का पूरा प्रबंध किया गया है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मानवेंद्र के BJP छोड़ने से कांग्रेस को हुआ फायदा, पत्नी चित्रा लड़ेंगी विधानसभा चुनाव

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के पुत्र मानवेंद्र सिंह के बीजेपी छोड़ने