कुछ इस तरह से शुरू हो चुकी हैं कोरोना टीकाकरण की तैयारी, पहले टीका उन्ही लोगों को लगाया जाएगा….

कोरोना संक्रमण की रोकथाम व इससे बचाव के लिए संभावित टीकाकरण के लिए जिले में बड़े पैमाने पर तैयारियां चल रही हैं। इसके लिए कलेक्टर ने बैठक लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की है। इस दौरान यह तय किया गया है कि स्वास्थ्य केंद्रों के साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों, स्कूलों, पंचायत भवनों और इसी तरह के अन्य परिसरों में कोरोना का टीका लगाया जाएगा। वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय अपने डिजिटल प्लेटफार्म के जरिये इस पूरे अभियान पर नजर रखेगा। इसके लिए लाभार्थियों को एक क्यूआर कोड भी जारी किया जाएगा। उन्हीं लोगों को पहले क्रम में टीका लगाया जएगा।

कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। सब कुछ ठीक रहा तो यह संभावना है कि जनवरी कोविड वैक्सीनेशन का कार्य शुरू हो सकता है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, टीकाकरण के पहले चरण के लिए लगभग 10,000 फ्रंट लाइन वर्कर्स यानी डॉक्टर व उनके स्टाफ की सूची तैयार की गई है। इसके अतिरिक्त जिले में वर्तमान में 54 कोल्ड चेन प्वाइंट भी तैयार किए गए हैं।

कोरोना महामारी की रोकथाम करने के लिए कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में विभिन्न पहलुओं पर चर्चा के बाद टीकाकरण अभियान के लिए एक खाका तैयार किया गया है। इसके अनुसार वैक्सीन के वितरण और आपूर्ति पर सतत नजर रखी जाएगी। वहीं लाभार्थियों को एसएमएस के जरिये टीका लगाने के लिए समय और बूथ की जानकारी दी जाएगी। इस हेतु कोविन पोर्टल को माध्यम बनाया जाएगा। इसी तरह क्यूआर कोड जारी कर उनकी पूरी जानकारी रखी जाएगी, ताकि जरूरत पड़ने पर उनसे संपर्क किया जा सके।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

किसी व्यक्ति को दो बार टीका न लगने पाए, इसके लिए इस अभियान से लाभार्थियों के आधार नंबर को जोड़ा जाएगा। जिनके पास आधार कार्ड नहीं होगा, वह सरकार की तरफ से जारी फोटो पहचान पत्र का इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके अलावा भी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए टीकाकरण अभियान की तैयारियों से जुड़े कई दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। आपात स्थिति में रिजर्व गाड़ियों की व्यवस्था के लिए भी कहा गया हैए ताकि किसी भी सूरत में टीकाकरण कार्यक्रम की कड़ी न टूटे।

डीटीएफ तथा बीटीएफ का काम पूरा

स्वास्थ्य विभाग के डीआईओ डा. बीएल कुमरे ने बताया, टीकाकरण की तैयारी के क्रम में डीटीएफ तथा ब्लाक स्तर पर बीटीएफ का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। कोविन पोर्टल पर लाभार्थियों का पंजीकरण किया जा रहा है। कोरोना वैक्सीन के रख-रखाव के लिए कोल्ड चैन हैंडलर्स को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। उन्होंने बताया, कोविन पोर्टल के माध्यम से सरकार की ओर से टीकाकरण की आनलाइन निगरानी की जाएगी जिसके लिए सभी जरूरी व्यवस्थाएं की जा रही हैं। वहीं सीएमएचओ डा. मिथलेश चौधरी ने बताया, कोरोना संक्रमण की रोकथाम की दिशा में टीकाकरण की यह तैयारी एक कारगर प्रयास साबित हो सकता है। टीकाकरण की संभावनाओं को देखते हुए प्रारंभिक तैयारी शुरू कर दी गई हैं। इस क्रम में जिला व ब्लाक स्तर पर टास्क फोर्स समिति का भी गठन किया गया है।

मौत का आंकड़ा 160 के करीब

जिले में कोरोना का कहर जारी रहा। अब तक 17500 से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। हालांकि 15800 से अधिक लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं, लेकिन कोरोना से मौत का आंकड़ा 160 के करीब पहुंच चुका है। हर दिन मौत का आंकड़ा एक है। यह चिंताजनक है। सीएमएचो डा. चौधरी का कहना है कि विभाग द्वारा हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button