पुलिस कस्टडी से भागा हत्यारोपी छह साल बाद गिरफ्तार

- in अपराध
छह साल पहले हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद पुलिस कस्टडी से फरार हुए शातिर को पुलिस ने दबोच लिया है। आरोपी दिल्ली में अपना हुलिया और पहचान बदलकर रह रहा था। पांवटा के एक धार्मिक स्थल में हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी पिकअप लेकर भाग गया था। गिरफ्तारी के बाद पेशी के दौरान वह पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था।

पांवटा पुलिस थाना में वर्ष 2012 में एफआईआर संख्या-49/12 के तहत आईपीसी की धारा-302, 382 व 34 के तहत मामला दर्ज हुआ था। आरोपी सविंद्र सिंह उर्फ मिंटू ने उतराखंड से किराये पर पिकअप ली। रात को पांवटा के धार्मिक स्थल पर चालक के साथ रुका और उसकी हत्या कर दी। आरोपी ने कमरे में ताला लगाया और वाहन चोरी करके फरार हो गया। इस मामले का खुलासा तब हुआ था, जब पंजाब पुलिस ने आरोपी को चैकिंग के दौरान वाहन समेत दबोच लिया।

पैसों के लिए दबंगो ने महिला को पीट

पंजाब पुलिस ने उसके खिलाफ आईपीसी की धारा-411 में मामला दर्ज किया था। पूछताछ में आरोपी ने पांवटा में हत्या करने का भी खुलासा किया। जिसके बाद पंजाब पुलिस आरोपी को पांवटा लेकर पहुंची। जांच टीम ने कमरा खुलवाया तो देखा की भीतर शव पड़़ा हुआ था। इसके बाद पंजाब पुलिस ने आरोपी को हत्या मामले में हिमाचल पुलिस के हवाले कर दिया। लेकिन हत्या आरोपी सविंद्र सिंह उर्फ मिंटू पुलिस कस्टडी से फरार हो गया।

जिसके बाद जिला पुलिस के 2 एचएचसी को लापरवाही के मामले में करीब 11 माह कैद काटनी पड़ी थी। एसपी सिरमौर रोहित मालपानी ने बताया कि वर्ष 2012 में पांवटा हत्याकांड के आरोपी को दिल्ली से दबोच लिया गया है। आरोपी पुलिस कस्टडी से फरार हुआ था। वह दिल्ली में हुलिया बदल कर रह रहा था।

Patanjali Advertisement Campaign

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मुंबई : सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड के चश्मदीद की हुई हत्या

मुंबई । साल 2011 के सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड