Home > राज्य > दिल्ली > PMO के फर्जी पहचान पत्र से युवकों ने किया सेना भवन में घुसने का प्रयास

PMO के फर्जी पहचान पत्र से युवकों ने किया सेना भवन में घुसने का प्रयास

नई दिल्ली। पीएमओ के फर्जी पहचान पत्र पर नकली लेफ्टिनेंट कर्नल, उसकी पत्नी व दो अन्य युवकों ने शुक्रवार शाम को सेना भवन में घुसने का प्रयास किया। पुलिस ने गाजियाबाद निवासी चारों आरोपितों को हिरासत में ले लिया है। इसके बाद खुफिया एजेंसियां भी हरकत में आ गई हैं। शुरुआती पूछताछ में यह नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह लग रहा है। मामले में अब नेशनल इनवेस्टिगेटिव एजेंसी (एनआइए), स्पेशल सेल व केंद्रीय खुफिया इकाइयां पूछताछ कर रही हैं। इनके पास से फर्जी आईडी कार्ड व कुछ दस्तावेज बरामद हुए हैं।PMO के फर्जी पहचान पत्र से युवकों ने किया सेना भवन में घुसने का प्रयास

सूत्रों के मु़ताबिक, हिरासत में लिए गए आरोपितों में से एक खुद को खुफिया एजेंसी का कर्मचारी बता रहा था। आइडी कार्ड देखने पर सुरक्षाकर्मियों को उस पर शक हुआ और वे उससे पूछताछ करने लगे। इस दौरान वह सही जवाब नहीं दे पाया तो उच्च अधिकारियों को सूचित किया गया। मौके पर पहुंची साउथ एवेन्यू थाना पुलिस ने सभी को हिरासत में ले लिया।

शुरुआती पूछताछ में पता चला कि आरोपित अमित शर्मा गाजियाबाद निवासी है और वह पहले भी कई बार सरकारी दफ्तरों में घुसता रहा है। यह भी सामने आया कि आरोपित अमित नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी करता है। उसके साथ आए संदीप ने भी आरोप लगाया कि नौकरी के लिए उसने अमित को करीब ढाई लाख रुपये दिए थे। फिलहाल साउथ एवेन्यू पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

दिखाया था पीएमओ का फर्जी पहचान पत्र

पांच बजे एक गाड़ी जबरन सेना भवन में घुसने का प्रयास कर रही थी। इस पर वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने गाड़ी को रोका और ड्राइवर से पूछताछ की तो उसने बताया कि गाड़ी में लेफ्टिनेंट कर्नल अभिमन्यु शर्मा बैठे हैं। सुरक्षाकर्मियों ने कथित लेफ्टिनेंट कर्नल से पहचान पत्र दिखाने के लिए कहा तो उसने पीएमओ का कार्ड सुरक्षाकर्मियों को दिया। शक होने पर सुरक्षाकर्मियों ने कुछ सवाल किए। सही जवाब नहीं मिलने पर सुरक्षाकर्मियों ने गाड़ी में मौजूद ड्राइवर सोनी, संदीप, हरजिंदर कौर और खुद को लेफ्टिनेंट कर्नल अभिमन्यु शर्मा बताने वाले शख्स को हिरासत में ले लिया था।

Loading...

Check Also

25 जनवरी के बाद ओमप्रकाश राजभर ले सकते हैं बड़ा फैसला, भाजपा के रुख का इंतजार

25 जनवरी के बाद ओमप्रकाश राजभर ले सकते हैं बड़ा फैसला, भाजपा के रुख का इंतजार

सपा-बसपा गठबंधन के बाद अब छोटे दलों को अपने-अपने पाले में खींचने की राजनीति शुरू …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com