पीएम से मिल शिअद ने उठाया सिख कैदियों की रिहाई का मुद्दा

चंडीगढ़। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के प्रधान सुखबीर सिंह बादल के नेतृत्व में पार्टी के एक शिष्टमंडल ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात की। शिअद ने स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने और सिख कैदियों की रिहाई का मुद्दा उठाया। शिष्टमंडल ने लंगर की सामग्री को जीएसटी से छूट देने और गन्ना किसानों को 800 करोड़ के पैकेज के लिए केंद्र सरकार का धन्यवाद किया।पीएम से मिल शिअद ने उठाया सिख कैदियों की रिहाई का मुद्दा

स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें जल्द लागू करने की मांग

शिष्टमंडल ने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू होने से किसानों के लिए फसलों की लागत पर 50 फीसद लाभ यकीनी हो जाएगा। साथ ही कहा कि अपनी सजा पूरी कर चुके और कई मामलों में 20 वर्ष से अधिक की सजा काट चुके सिखों को तुरंत रिहा किया जाए। शिष्टमंडल में सुखबीर बादल के अलावा सुखदेव सिंह ढींडसा, रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा, बलविंदर सिंह भूंदड़, केंद्रीय मंत्री  हरसिमरत कौर बादल, प्रो. प्रेम सिंह चंदूमाजरा और जत्थेदार मनजिंदर सिंह सिरसा भी शामिल थे।

डेरा बाबा नानक से पाकिस्तान तक गलियारा बनाने की मांग

शिष्टमंडल ने प्रधानमंत्री से डेरा बाबा नानक से गुरु नानक देव जी के जन्म स्थान करतारपुर साहिब (पाकिस्तान) तक एक गलियारा बनाने मुद्दे पर पाकिस्तान से बात करने की अपील की। सुखबीर बादल ने कहा कि श्री गुरु नानक देव जी के प्रकाशोत्सव पर यह उनके लिए बड़ी श्रद्धांजलि होगी।

उन्‍होेंने श्री गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व को अंतरराष्ट्रीय समारोह के तौर पर मनाने के लिए एक राष्ट्रीय समिति बनाने की मांग की। प्रधानमंत्री ने इस मांग पर हामी भरी है। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान गोबिंद सिंह लोंगोवाल और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान मनजीत सिंह जीके भी शिष्टमंडल में शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के