लखनऊ में पीएम मोदी ने किया 60 हजार करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास, पढ़े पूरी खबर…

प्रधानमंत्री मोदी ने आज उत्तर प्रदेश को 81 विकास और निवेश परियोजनाओं का तोहफा दिया. पीएम ने आज करीब 60 हजार करोड़ की निवेश परियोजनाओं का शिलान्यास किया. यूपी इनवेस्टर सम्मेलन के दौरान यूपी सरकार और कई कंपनियों के बीच समझौता हुआ था. जिनका अब शिलान्यास किया गया है. शिलान्यास के बाद पीएम मोदी ने कहा कि यूपी को दिया वचन सौगात के रूप में लौटा रहा हूं. पीएम मोदी ने इस दौरान विपक्ष पर निशाना साधा. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अगर नीयत साफ और ईमानदार हो तो किसी के भी साथ खड़े होने से दाग नहीं लगता.

ये दो दिन में प्रधानमंत्री मोदी का दूसरा लखनऊ दौरा है तो बीते एक महीने में छठा यूपी दौरा. शनिवार को भी लखनऊ आए थे और यहां उन्होंने 3,897 करोड़ रुपए की 99 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया था. इस पर आज प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं यहां से सांसद और यूपी का ही हूं, इसलिए एक बार आऊं, दो बार या पांच बार फर्क नहीं पड़ता. मैं यहां आता नहीं हूं, मैं यहीं का हूं. विपक्ष पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जो लोग मोदी की आलोचना के लिए चीज़ें ढूंढ रहे हैं वो लिखकर रख लें जो भी चीज़ें मिलेगी वो पिछले सत्तर साल की सरकारों की मिलेंगी.

पीएम मोदी ने कहा कि एक वक़्त में यूपी में निवेश चुनौती होता था, लेकिन आज निवेश सुअवसर के रूप में नज़र आ रहा है. उन्होंने कहा हम उनमें से नहीं है की उद्योगपति के साथ ना खड़े हों, कई लोगों की एक भी फ़ोटो इनके साथ नहीं होगी, हमारी नियत साफ है लिहाज़ा उद्योगपतियों को साथ खड़े हैं. सबको उद्योगपतियों की ज़रूरत थी लेकिन परदे के पीछे मिलते थे. उद्योगपतियों का भी देश बनाने में योगदान है लिहाज़ा नियत ठीक को तो इनके साथ खड़े होने में कोई दिक़्क़त नहीं है. प्रधानमंत्री ने कहा, ”देश या तो प्रधानमंत्री चला पता है, या पटवारी चलाता है, सीएम से लेकर पटवारी तक के सहयोग  से 60 हज़ार करोड़ की योजनाओं का काम हो पाया है”.

उद्योगपतियों संग खड़ा होने पर नहीं लगता है दाग: PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि पांच महीने में ये दूसरी बार है जब उद्योग जगत से जुड़े साथियों के साथ मैं यहां लखनऊ में मिल रहा हूं.इससे पहले फरवरी में यूपी इन्वेस्टर्स समिट के लिए भी आप आए थे. मुझे प्रसन्नता है कि उस संकल्प को ज़मीन पर उतारने की कड़ी में आज बड़ा कदम उठ रहा है.

पीएम ने कहा कुछ लोग इसे ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी कह रहे हैं, लेकिन मैं इसे रिकॉर्ज ब्रेकिंग सेरेमनी कहूंगा.इतने कम समय में जिस प्रकार प्रक्रियाओं को तेज़ी से आगे बढ़ाया गया है, पुराने तौर तरीकों को बदला गया है, ऐसा उत्तर प्रदेश में देखने को नहीं मिलता था.

मोदी ने कहा, ”मुझे खुशी है कि योगी जी के नेतृत्व में सरकार ने निवेशकों से संवाद बनाए रखा और निवेश में बदलने के लिए माहौल तैयार किया. ऑनलाइन एमओयू ट्रैकर हो या क्लीयरेंस के लिए निवेश मित्र जैसा डिजिटल प्लेटफॉर्म, ये यूपी में बिजनेस के लिए बने अनुकूल वातावरण को दर्शाता है.”

 

प्रधानमंत्री ने कहा, ” मैंने यूपी की 22 करोड़ जनता को वचन दिया था कि उनके प्यार को ब्याज़ समेत लौटाउंगा. यहां जो परियोजनाएं शुरु हो रही हैं वो उसी वचनबद्धता का हिस्सा हैं. ये प्रोजेक्ट्स उत्तर प्रदेश में आर्थिक और औद्योगिक असंतुलन को दूर करने में भी सहायक होंगे. ये प्रोजेक्ट्स डिजिटल इंडिया और मेक इन इंडिया को नया आयाम देने की दिशा में बहुत बड़े कदम सिद्ध होने वाले हैं. उत्तर प्रदेश में इंटरनेट सर्विस पहुंचाने के लिए फाईबर बिछाना हो या फिर IT सेंटर स्थापित करना डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर यूपी के विकास को नई गति, नई दिशा देने वाला है.”

पीएम ने कहा, ”एक ऐसी व्यवस्था खड़ी करना चाहते हैं जहां किसी प्रकार के भेदभाव की गुंजाइश ना हो, प्रक्रियाओं में गति भी दिखे और संवेदनशीलता भी, ना अपना, ना पराया, ना छोटा, ना बड़ा, सबके साथ समान व्यवहार, यानि कुल मिलाकर सबका साथ, सबका विकास. विपक्ष पर हमला करते हुए पीएम वे कहा, ”लोग किसके प्लेन से चलते हैं सबको पता है, लेकिन इन्हीं उद्योगपतियों को चोर कहते हैं. महात्मा गांधी को भी बिरला के घर में रुकते थे क्योंकि उनकी नियत साफ़ थी.”

पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया में मोबाइल बनाने में हम दूसरे नम्बर पर पहुंच रहे हैं, देश में भारी संख्या में मोबाइल बन रहा है, जिससे डिजीटेलाइजेशन को फ़ायदा मिल रहा है. उन्होंने कहा कि प्रगति की दौड़ में अभी ये शुरुआत है, अभी मुझे बहुत तेज़ गति से दौड़ना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

हाइवे पर ताजियों को रखकर ताजियेदारों ने लगाया जाम

मोहर्रम के ताजिये निकालने को दौरान जमकर हंगामा