PM मोदी ने लखनऊ में इन दो दिनों में किये इन बड़े सपनों को पूरा करने की बात

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो दिवसीय लखनऊ दौरे को विपक्षी दलों ने फ्लाप करार दिया है। आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी अपनी खोई लोकप्रियता व विश्वसनीयता को बचाने के लिए विकास के सपने बेचने का असफल प्रयास कर रही है। इससे विपरीत भाजपा ने कहा कि सपा शासन में केवल अपराध के क्षेत्र में निवेश से यूपी को जंगलराज बना दिया गया था।PM मोदी ने लखनऊ में इन दो दिनों में किये इन बड़े सपनों को पूरा करने की बात

किसी भी समाजवादी योजना का मुकाबला नहीं

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार की तमाम योजनाओं की घोषणाएं हवाई हैं। क्योंकि अभी तक उनका काम जमीन पर कहीं दिखाई नहीं दिया। किसान परेशान है, नौजवान बेरोजगारी से त्रस्त है, आम आदमी महंगाई की मार झेल रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की तमाम घोषणाएं और उनका प्रायोजित भव्य स्वागत मुख्यमंत्री इसलिए करा रहे हैं क्योंकि वह समाजवादी सरकार की योजनाओं के मुकाबले की एक भी योजना अब तक लागू नहीं कर पाए हैं। गत छह माह से निवेश का बड़ा ढिंढोरा पीटा जा रहा है, पर यह सच्चाई है कि जब कानून-व्यवस्था का संकट रहेगा तब विकास योजनाएं कैसे सफल होंगी।

जुमलेबाजी का नया व ताजा नमूना

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दो दिवसीय दौरा जुमलेबाजी व हवाई घोषणाओं वाला रहा। बदहाल कानून व्यवस्था वाले प्रदेश में कैसे नए उद्योग लग पाएंगे? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस बारे में जनता को नहीं बता रहे। केवल भाषण करने व भव्य कार्यक्रम आयोजित किए जाने से विकास नहीं होता है। चुनाव से पहले जुमलेबाजी करने और समाज को तोडऩे की साजिश रचने वालों को इस बार जनता सबक सिखाने के लिए तैयार है। उन्होंने आरोप लगाया कि किसान और युवा बेहाल हैं, जनता से चुनाव में किए वादे पूरे नहीं हो सके। प्रधानमंत्री का दो दिन का आयोजन सरकारी धन की बर्बादी से अधिक कुछ नहीं रहा।

रालोद-प्रदेश अध्यक्ष डॉ.मसूद अहमद ने आरोप लगाया कि नफरत फैलाने व समाज को तोडऩे वाले भाजपा नेताओं की सांप्रदायिक रीतिनीति को जनता पूरी तरह जान गई है। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में सिद्ध कर दिया कि उनका किसानों से कोई सरोकार नहीं है। उनकी हमदर्दी केवल सूट बूट वालों से है। गन्ना किसानों को अपनी बकाया रकम नहीं मिल पा रही, महंगी बिजली ने किसानों की कमर तोड़ दी है। गांवों में नहीं शहरों में भी विकास चौपट है और प्रधानमंत्री स्मार्ट सिटी का सपना दिखाकर जनता को छलने की कोशिश कर रहे हैं। जनता की भाजपा से तमाम उम्मीदें ध्वस्त हो गई हैं।

सपा शासन में था जंगलराज : भाजपा

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा भाजपा सरकार पर उठाए गए सवाल का करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि सपा शासन में केवल अपराधियों द्वारा अपराध में निवेश किया गया, जिन्होंने यूपी को जंगलराज बना दिया था। डॉ. पांडेय ने कहा कि समाजवादी पार्टी के पास न नीति है और न ही साफ नीयत है। दरकी हुई राजनीतिक जमीन सहेजते और दर-दर गठबंधन को भटकते सैफई के युवराज की सोच विकास विरोधी रही है। यदि सपा प्रमुख जनता के कल्याण के लिए काम करते तो उन्हें सत्ता से बेदखल नहीं होना पड़ता। डॉ. पांडेय ने कहा कि सपा-बसपा शासन में 14 वर्षों तक प्रदेश भय और आतंक के साए में रहा। रंगदारी, वसूली, प्रशासनिक भ्रष्टाचार ने उद्योग और व्यापार को प्रदेश में पनपने ही नहीं दिया।

ऐसे में निवेश के रास्ते बंद हुए और संसाधनों एवं युवा शक्ति से सम्पन्न यूपी बीमारू राज्य बन गया। यूपी को बीमारू राज्य बनाने वाले अखिलेश यादव और उनकी बुआ 22 करोड़ यूपी की जनता के गुनहगार हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संकल्प से यूपी भय मुक्त हुआ है और अब आर्थिक समृद्धि की ऊंची उड़ान भरने को तैयार है। प्रदेश में हजारों करोड़ का निवेश हो रहा है और लाल फीताशाही का अंत हुआ है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बटुक भैरव देवालय में भादों का मेला 23 सितम्बर को

 अभिषेक के बाद होगा दर्शन का सिलसिला, नए