PM मोदी आज कर सकते हैं ये चार घोषणा

स्पेशल डेस्क
कोरोना के मामले देश में थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। जानकारी के मुताबिक 70 हजार से ज्यादा लोग अब कोरोना की चपेट है। इसके साथ 2293 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है। पीएम मोदी ने कल राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ लम्बी बातचीत की है। हालांकि इस बैठक में लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला भले ही नहीं किया गया है लेकिन प्रधानमंत्री मोदी मंगलवार की रात एक बार फिर देश की जनता को संबोधित करेंगे।
ऐसे में कहा जा रहा है कि पीएम मोदी एक बार फिर लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की घोषणा कर सकते हैं। बता दें कि 5 मार्च से जारी 54 दिन का लॉकडाउन 17 मई को समाप्त होने वाला है। ऐसे में पूरा देश लॉकडाउन के खत्म करने का भले ही इंतेजार कर रहा हो लेकिन मोदी एक बार फिर इसे आगे बढ़ा सकते हैं।
कल की बातचीत में राज्य के छह मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन को बढ़ाने के लिए कहा था जबकि गुजरात सरकार इसके के पक्ष में नहीं है। पीएम मोदी आज रात आठ बजे कुछ अहम फैसलों की जानकारी दे सकते हैं।
यह भी पढ़ें :   कोरोना : सिर्फ एक तिहाई प्रवासी मजदूरों को मिल रहा राहत घोषणाओं का फायदा  
यह भी पढ़ें : बेबस मजदूरों के पलायन से क्यों घबरा रही हैं राज्य सरकारें
यह भी पढ़ें :   तालाबंदी को लेकर उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने क्या कहा ?
देश में काफी समय से लॉकडाउन लगा हुआ है लेकिन कोरोना के मामले अब पहले से ज्यादा नजर आ रहे हैं। ऐसे में अब देखना होगा कि क्या लॉकडाउन को फिर आगे बढ़ाया जा सकता है।
इसके आलावा लॉकडाउन को अगर आगे बढ़ाया जाता है तो कुछ चीजों में रियायतें मिलना भी तय माना जा रहा है। ऐसे में लॉकडाउन-4 को लेकर राज्यों के सीएम की राय अहम होने जा रही है। कहा जा रहा है कि राज्यों को इस दौरान कुछ फैसले लेने की छूट मिल सकती है।

जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी इस बात की जानकारी भी दे सकते हैें कि पूरी तरह से रेल सेवा बहाल नहीं की जाएगी। यानी साफ तौर पर केवल सीमित संख्या में ही ट्रेनें ट्रैक पर दौड़ेंगी।
यह भी पढ़ें :  कोरोना इफेक्ट : टाटा ग्रुप के कर्मचारियों को झेलना पड़ सकता है नुकसान 
यह भी पढ़ें : नौकरियां बचानी हैं तो तुरंत खोलनी चाहिए अर्थव्यवस्था
पीएम ने कल कहा था कि मैं चाहता हूं कि लॉकडाउन के दौरान और उसमें क्रमिक ढील के बाद चीजों से कैसे निपटेंगे, उसका आप ब्लूप्रिंट बनाएं। उन्होंने कहा कि हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती रियायतों के बाद भी कोविड-19 को गांवों तक फैलने से रोकने की होगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्यों के सुझावों के आधार पर ही आगे का रास्ता तय होगा। इससे पीएम आज राज्यों को अधिक अधिकार देने पर कोई घोषण कर सकते हैं। कुल मिलाकर एक बार फिर लोग उत्सुक है और जानना चाहते हैं कि पीएम मोदी इस बार क्या घोषणा करने वाले हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button