देश में महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, नेपाल से वाहनों में भरवाकर लौट रहे लोग

लखनऊ: देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं. ऐसे में महंगाई की मार से बचने के लिए नेपाल-भारत के बॉर्डर पर बसे भारतीय इलाकों के लोगों ने नया तरीका निकाला है. बॉर्डर पर बसे लोग अपने वाहन लेकर नेपाल जा रहे हैं. पेट्रोल या डीजल भरवाते हैं और वापस लौट आते हैं. इसके अलावा नेपाल से पेट्रोल-डीजल को तस्करी कर देश में लाया जा रहा है. बता दें कि नेपाल में पेट्रोल-डीजल की कीमतें भारत की अपेक्षा काफी कम हैं. नेपाल में भारतीय मुद्रा की कीमत अधिक है. इसलिए जो पेट्रोल-डीजल वहां के लोगों के लिए महंगा है, वो यहां के लोगों के लिए सस्ता पड़ता है. नेपाल जाने के लिए किसी बीजा-पासपोर्ट की भी ज़रूरत नहीं पड़ती है. लोग छोटे वाहनों और बस के जरिए नेपाल जा सकते हैं.देश में महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, नेपाल से वाहनों में भरवाकर लौट रहे लोग

यूपी के बहराइच से आईं तस्करी की तस्वीरें 

नेपाल से पेट्रोल-डीजल की तस्करी का मामला यूपी के बहराइच में सामने आया है. बहराइच में लोगों द्वारा पेट्रोल-डीजल की नेपाल से तस्करी की जा रही है. तस्करी करने वाले खुद इस्तेमाल करने के साथ ही पेट्रोल-डीजल को यहां बढ़ी कीमतों पर बेचते भी हैं. बहराइच से सटे नेपाल बॉर्डर से ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं. पुलिस का कहना है कि वह ऐसे लोगों पर नजर रख रही है. इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

लोग चले जाते हैं नेपाल, इतने कम में मिलता है पेट्रोल-डीजल

बहराइच ही नहीं बल्कि यूपी के गोरखपुर व बिहार के नेपाल से सटे सीमावर्ती इलाकों से भी साईकिल से डिब्बों में पेट्रोल-डीजल भरवाकर लाने की तस्वीरें भी आ चुकी हैं. नेपाल में एक रुपए की भारतीय मुद्रा की कीमत 1.60 नेपाली रुपए होती है. इसलिए जो पेट्रोल-डीजल की कीमत नेपाल के लोगों के लिए अधिक होती है, अगर भारतीय मुद्रा के बदले खरीदा जाता है, तो उसकी कीमत कम हो जाती है. यहां के लोगों को नेपाल में पेट्रोल-डीजल 10 से 15 रुपए सस्ता पड़ जाता है. नेपाल में पेट्रोल की कीमत नेपाली मुद्रा में 100 रुपए से अधिक है. अगर भारतीय मुद्रा के बदले इसे खरीदा जाता है तो इसकी कीमत 60 से 65 रुपए प्रति लीटर ही रह जाती है. इसी तरह डीजल खरीदते हैं तो यह 50 से 60 रुपए के पड़ता है, जबकि यहां डीजल की कीमतें अधिक हैं.

सीमावर्ती इलाकों में कम हुई बिक्री

भारत-नेपाल के सीमावर्ती इलाकों में पेट्रोल डीजल की बिक्री कम हो गई है. बिहार और उत्तर प्रदेश के सीमा पर बसे इलाकों के पेट्रोल डीजल की बिक्री आधी रह गई है. पम्प संचालकों का कहना है कि तस्करी और लोगों के वहां से टैंक फुल कराकर वापस लौटने के कारण ऐसा हो रहा है. लोग नेपाल के कारण भारतीय सीमा के इस ओर लगे पम्पों के पेट्रोल-डीजल नहीं खरीद रहे हैं. लोग अपने घरों में स्टोर कर रख ले रहे हैं.

इन बढ़ी कीमतों पर मचा है बवाल

देश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर काफी समय से बवाल मचा हुआ है. पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं. बता दें कि दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 78.43 प्रति लीटर है तो मुंबई में 86.24 प्रति लीटर है. दूसरी तरफ डीजल के दामों में भी बढ़ोत्तरी हुई है. दिल्ली में डीजल 69.31 प्रति लीटर तो मुंबई में 73.79 प्रति लीटर है. मंगलवार को लगातार 16वें दिन भी पेट्रोल डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की गई है. यह पेट्रोल का ऑल टाइम हाई स्तर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच