कुंडा में राजा भैया बेंती कोठी मिलने पहुँचे बड़ी संख्या में लोग

प्रतापगढ़। सोशल मीडिया पर कल शाम को अखिलेश यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के एयरक्राफ्ट के क्रैश होने की सूचना से उनके विधानसभा कुंडा सहित अन्य जगहों पर खलबली मच गई। इस सूचना को पाने वाले लोग आज भी दिन में कुंडा में राजा भैया से मिलने उनकी बेंती कोठी पहुंचे।कुंडा में राजा भैया बेंती कोठी मिलने पहुँचे बड़ी संख्या में लोग

सोशल मीडिया पर कल पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया) का टू सीटर एयरक्राफ्ट दुर्घटनाग्रस्त होने की चर्चा सुन उनकी कुशलक्षेभ जानने के लिए आज उनके समर्थकों का उनके आवास बेंती कोठी में तांता लगा रहा। आज सुबह से ही लोग पहुंचने लगे थे। रघुराज प्रताप सिंह इन सबसे मिले और इस सूचना को महज कोरी अफवाह बताया।

प्रतापगढ़ के कुंडा से लगातार छह बार से निर्दलीय जीते राजा भैया ने सभी लोगों से इस अपनत्व के लिए आभार व्यक्त किया। कुछ लोगों ने अपनी समस्याएं भी बताई व शिकायती पत्र सौंपा।

कल देर रात तक होती रही रघुराज प्रताप का एयरक्राफ्ट दुर्घटनाग्रस्त होने की चर्चा

प्रतापगढ़ के कुंडा क्षेत्र में एक निजी टू सीटर एयरक्राफ्ट दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर मंगलवार रात सोशल मीडिया पर वायरल हुई। मामला बहुत तेजी से फैला क्योंकि एयरक्राफ्ट पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह से जुड़ा हुआ बताया गया। यह भी दावा किया गया कि रघुराज प्रताप और पायलट घायल हुए हैं। घटना रात करीब आठ-8:30 बजे की बताई गई है। खबर फैलते ही कुंडा स्थित बेंती महल पर भारी भीड़ जमा हो गई।

रघुराज प्रताप ने इसे अफवाह बताते हुए सिरे से खारिज कर दिया। कुंडा तहसील के हथिगवां थाना क्षेत्र के बेंती में रघुराज प्रताप सिंह का महल है। चर्चा यह भी रही कि पूर्व मंत्री के पैर में चोट आई, वे अस्पताल भी पहुंचे। एसपी एसपी संतोष कुमार सिंह ने भी ऐसी किसी दुर्घटना की जानकारी से इन्कार किया है। जागरण से बातचीत में रघुराज प्रताप सिंह ने चुटीले अंदाज में कहा कि आंवला और अफवाह प्रतापगढ़ में बहुत प्रसिद्ध हैं। ऐसी ही अफवाह है। 

गौरतलब है कि इसके पहले मार्च, 2009 में बेंती के पास लैंडिंग के दौरान पूर्व मंत्री का एयरक्राफ्ट दुर्घटनाग्रस्त हो गया था जिसमें वे घायल हो गए थे, जबकि उनके मित्र जुल्फिकार भुट्टो को भी चोट आई थीं। रघुराज प्रताप सिंह काफी दिनों तक अस्पताल में भर्ती थे, उनके पैर का ऑपरेशन किया गया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के