बिहार में भारी बारिश से पटना का नालंदा मेडिकल कॉलेज बना तालाब, ICU तक में पानी

पटना। दो दिनों से जारी भारी बारिश से पटना में जगह-जगह जल-जमाव का नजारा है। निचले इलाकों में दो से चार फीट तक पानी जमा हो गया है। बिहार के दूसरे बड़े अस्‍पताल नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (एनएमसीएच) के आइसीयू तक में गंदा पानी घुस गया है। वार्डों में मरीज बेड पर लेटें हैं और नीचे फर्श पर बहते पानी में कीड़े रेंग रहे हैं।बिहार में भारी बारिश से पटना का नालंदा मेडिकल कॉलेज बना तालाब, ICU तक में पानी

भारी बारिश से पटना में जल-जमाव हो गया है। एनएमसीएच तो तालाब बना दिख रहा है। ऊपर मरीज बेड व स्‍ट्रेेचर पर हैं और नीचे फर्श पर पानी बह रहा है। डॉक्टर -नर्स व अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी पानी के बीच मरीजों का इलाज करने को मजबूर हैं। अस्‍पताल में यह हाल केवल ओपीडी या वार्डों का ही नहीं, आइसीयू का भी है। गंभीर मीहजों के इलाज के लिए बने आइसीयू में भी पानी है।

इस अस्‍पताल में प्रतिदिन हजारों मरीज आते हैं। लेकिन, अस्पताल में जल-जमाव के कारण दनका इलाज बुरी तरह प्रभावित है। यह हाल केवल एनएमसीएच तक सरमित नहीं। दरअसल, पटना में जगह-जगह सम्प हाउस के ठीक से काम नहीं करने के कारण पानी का समुचित निकास नहीं हो पा रहा है। नगर निगम का पूरा तंत्र मूसलधार बारिश के आगे बेबस नजर आ रहा है। अस्पताल, स्कूल, कॉलेज, सरकारी दफ्तर से लेकर सड़क व गली तक जलमग्न हो गए हैं। कई इलाकों में लोग घरों में कैद होने को मजबूर हो गए हैं। दुकान, मकान व गोदाम तक में पानी प्रवेश कर गया है।

एनएमसीएच के आसपास स्थित फार्मेसी कॉलेज, टीबी सेंटर, अस्पताल मार्ग, बीएनआर मोड से लेकर सुलतानगंज व महेन्द्र ट्रेनिंग स्कूल के समीप अशोक राजपथ, कृषि बाजार समिति मुसल्लहपुर, गुलजारबाग व मीनाबाजार मंडी, बाचस्पति नगर, बहादुरपुर हाउङ्क्षसग कॉलोनी, ट्रांसपोर्ट नगर, रेलवे लाइन के दक्षिण में कई मोहल्ले जलमग्न हैं।

सैदपुर-रामपुर नाला के दोनों किनारों की बदहाल सड़क लोगों के लिए जानलेवा बन गई है। बारिश के पानी और गंदगी से नाला सड़क पर उबल गया है। नाला और सड़क के पानी से लबालब हो जाने के कारण दोनों के बीच का फर्क समाप्त हो गया है। इससे वाहनों एवं लोगों के लिए बड़ा खतरा उत्पन्न हो गया है। किसी भी क्षण हादसा होने की आशंका है। मुसल्लहपुर स्थित बाजार समिति मंडी भी तालाब में तब्दील हो गया है। परिसर से पानी का निकास नहीं होने के कारण पानी दुकानों व गोदामों में प्रवेश कर गया है। यहां का कारोबार पूरी तरह से बाधित हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में कोर्ट ने आरोपियों की रिमांड अवधि बढ़ाई

मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरपुर की एक कोर्ट ने यहां के एक