केरल लव जिहाद से पीड़ित बच्चों के साथ आए माता-पिता, बोले-सरकार नहीं कर रही कार्रवाई

- in राष्ट्रीय

लव जिहाद से पीड़ित बच्चों के माता-पिता ने अपनी बेटियों को वापस लाने के लिए समूह बनाया है और सरकार को अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए प्रभावित किया है। कोच्चि में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में शनिवार को हादिया के पिता अशोकन केएम और निमिषा की मां बिंदू ने दावा किया कि 30 परिवारों के बच्चे लव जिहाद से पीड़ित हैं। दावे में कहा गया कि सरकार और पुलिस ऐसा रवैया अपना रहे हैं जोकि आतंकियों को कई मामलों में सहयोग दे रहा है। अशोकन ने कहा कि इन वजहों ने हमें समूह बनाने के लिए मजबूर किया। निमिषा की मां बिंदू ने कहा कि कई लड़कियों ने सुसाइड की है और कई को मार दिया गया है। कई लड़कियों के बारे में तो कोई जानकारी नहीं है कि वो कहां हैं।केरल लव जिहाद से पीड़ित बच्चों के साथ आए माता-पिता, बोले-सरकार नहीं कर रही कार्रवाई

NIA और पुलिस इन मामलों की जांच कर रही हैं जिसमें कई लोगों और संगठनों का नाम सामने आया है। पुलिस और सरकार किसी भी तरह की कार्रवाई करने में नाकाम रही है। आपको बता दें कि दिसंबर 2016 में शेफिन जहां ने हादिया से शादी की थी लेकिन उसके माता पिता ने इस शादी को स्वीकार करने से मना कर दिया था ।

अशोकन द्वारा फाइल की गई पिटीशन पर हाईकोर्ट ने मई 2017 में इस शादी को रद्द कर दिया था और उसे घर भेज दिया था। बाद में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हादिया की शादी पर सवाल नहीं उठाये जा सकते। उसे कॉलेज में पढ़ने के लिए भेजा गया था। वहीं निमिषा के माता-पिता ने पिटीशन फाइल की थी कि उनकी बेटी को जबरदस्ती रिश्ते में बांधा गया, उसे गालियां दी गईं औऱ अबॉर्सन करने के लिए जबरदस्ती की गई।
 

You may also like

आधार की वैधता पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को सुनाएगा फैसला

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट बुधवार को आधार की वैधता पर