पान मसाला वालों ने मुझे बेवकूफ बनाया: हॉलीवुड एक्टर पियर्स ब्रॉसनन

हॉलीवुड अभिनेता पियर्स ब्रॉसनन पान मसाले के एक भारतीय ब्रांड के छद्म (सरोगेट) विज्ञापन में नजर आए थे. अपनी मौजूदगी से विवादों में आए इस अभिनेता ने कहा है कि कंपनी ने उनके साथ धोखाधड़ी की थी. ब्रॉसनन ने कहा कि कंपनी ने उन्हें यह नहीं बताया था कि पान मसाले से सेहत को नुकसान हो सकता है.

ब्रॉसनन ने दिल्ली राज्य तंबाकू नियंत्रण विभाग को एक जवाब लिखा है. स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त निदेशक एसके अरोड़ा ने बताया, ‘ब्रॉसनन ने लिखा है कि कंपनी ने उनके साथ धोखाधड़ी की, क्योंकि कंपनी ने अपने उत्पाद के नुकसान और विज्ञापन के कॉन्ट्रैक्ट के अन्य नियम और शर्तों का खुलासा नहीं किया.’

दिल्ली सरकार ने हाल ही में हॉलीवुड अभिनेता ब्रॉसनन को कारण बताओ नोटिस जारी किया था. सरकार ने पान मसाला कंपनी से भी पूछा कि क्यों न उसके निदेशकों और अधिकारियों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई शुरू की जाए.

चौथी बार एंजला मर्केल चुनी गईं जर्मनी की चांसलर

अरोड़ा ने कहा, ‘कानूनी नोटिस के जवाब में ब्रॉसनन ने यह भी कहा कि कंपनी के साथ उनका करार पूरा हो चुका है और ऐसे अभियानों के खिलाफ वह हमारे विभाग को सभी तरह की मदद और समर्थन देने को तैयार हैं.’

 

अधिकारी ने सभी नामी शख्सियतों और मास मीडिया एजेंसियों से पान मसाला, चाय, इलाइची और अन्य सामानों के नाम पर तंबाकू के सरोगेट विज्ञापनों (अप्रत्यक्ष रूप से किसी उत्पाद का प्रचार) में शामिल नहीं होने की अपील की है. अधिकारी का कहना है कि ये सभी सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पादन कानून (कोटपा), 2003 की धारा पांच के तहत प्रतिबंधित हैं.

You may also like

केन्या के अस्पताल में मिले 12 मृत नवजातों के शव, डॉक्टर समेत कई निलंबित

केन्या के एक अस्पताल में प्लास्टिक के थैलों