मीडिया को एक बार फिर ट्रम्प ने बताया फेक और कही ये बात…

वाशिंगटन: ये किसी भी खबर को गलत बना सकते हैं. ये फेक हैं, घिनौनी न्यूज व फेक.’ कुछ ऐसे ही शब्द थे अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के जब वे गुरुवार को पेंसिलवेनिया में मध्यावधि चुनावों में रिपब्लिकन पार्टी से सीनेट के उम्मीदवार लाउ बार्लेटटा के समर्थन में पहुंचें थे. ट्रम्प अपनी रैलियों में मीडिया के प्रति अपनी नाराजगी दिखा ही देते हैं. उन्होंने रैली में मौजूद मीडिया की ओर इशारा करते हुए कहा कि ‘आजाद प्रेस को जो भी हुआ है. ईमानदारी से रिपोर्टिंग को जो भी हुआ है. पर ये रिपोर्ट नहीं करते है. ये कहानी बनाते हैं.’

इवांका नहीं समझती मीडिया को दुश्मन

हालांकि मीडिया के बारे में उनकी बेटी इवांका ट्रम्प की राय अमेरिकी राष्ट्रपति से कुछ अलग ही है. एक कार्यक्रम के दौरान गुरूवार को जब इवांका से पूछा गया था कि वह अपने पिता द्वारा ‘मीडिया को बार-बार लोगों का दुश्मन बताए जाने पर क्या सोचती हैं ? उन्होंने कहा था, ‘‘नहीं. मुझे नहीं लगता कि मीडिया लोगों का दुश्मन है.” इवांका ने आगे कहा था, मेरे बारे में काफी कुछ लिखा गया है, और मैं जानती हूं कि उसमें सब कुछ सच नहीं है. ऐसे में मुझे समझ आता है कि लोग चिंतित क्यों होते हैं और वह ऐसा क्यों समझते हैं कि उन्हें निशाना बनाया जा रहा है.

इवांका के इस बयान के कुछ घन्टे बाद ही ट्रम्प ने ट्वीट किया है, ‘‘उन्होंने मेरी बेटी इवांका से पूछा कि मीडिया लोगों का दुश्मन है या नहीं. उसने बिलकुल सही कहा नहीं. फर्जी खबरें लोगों की दुश्मन हैं जो मीडिया के बड़े हिस्से द्वारा दिखाई जाती हैं.” हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति का कहना है कि मीडिया का बड़ा हिस्सा फर्जी खबरें बनाता है. पूरी मीडिया नहीं बल्कि ‘फर्जी खबरें’ लोगों की दुश्मन हैं.

ट्रम्प और ब्रिटेन की रानी की भेंटवार्ता की रिपोर्ट पर मीडिया को बताया फेक

गौरतलब है कि राष्ट्रपति बनने के बाद से ही ट्रंप लगातार मीडिया की आलोचना करते रहे हैं. पेंसिलवेनिया रैली में उन्होंने भीड़ को बताया जब पिछले महीने वो ब्रिटेन की रानी से मिले थे तो मीडिया ने फेक न्यूज़ चलाई कि वो 15 मिनट लेट से पहुंचे और फिर 45 मिनट ज्यादा रुक गए क्योंकि रानी से वो मुलाकात 15 मिनट तक ही होनी थी. उन्होंने पूरी खबर को फर्जी बताया और कहा कि उनके अच्छे कामों के बारे में मीडिया लोगों को कुछ नहीं बताती.

जल्द बन सकती है दीवार

उन्होंने कहा कि उन्होंने उत्तरी कोरिया और रूस के राष्ट्रध्यक्षों के साथ सफल वार्ता की. वो अपनी पत्नी को बताते हैं कि उन्होंने कैसे अमेरिका की ओर आने वाली मिसाइल्स को रोका पर मीडिया इस बारे में चुप है. राष्ट्रपति ने पेंसिलवेनिया में रैली में कहा कि मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाने का काम मध्यावधि चुनाव से पहले करें या बाद में ये फैसला करना उनके लिए मुश्किल हो रहा है, पर पहले बनाना ही उन्हें ठीक लगता है. आगे उन्होंने रैली में मौजूद मीडिया की ओर इशारा करते हुए कहा कि प्रेस की स्वतंत्रता और ईमानदार रिपोर्टिंग को कुछ तो हुआ है. ये  सही रिपोर्ट नहीं करते बस कहानी बनाते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चीन का कर्ज बढ़कर 2,580 अरब डॉलर हुआ

चीन का बढ़ता कर्ज अब 2,580 अरब डॉलर