तो इसलिए अब बाज़ार में कम नज़र आएँगे दो हज़ार के नोट

- in कारोबार

नई दिल्ली : नोट बंदी के बाद देश में प्रचलन में आए दो हज़ार के नोटों को लेकर शुरू से परेशानी उठाने की खबरें सामने आने लगी थी, लेकिन अब सरकार दो हज़ार के नोट का चलन कम करना चाहती है. इसीलिए बैंकों को कहा गया है कि वे अपने एटीएम में दो हजार रुपए के नोट न भरें. जबकि बैंकों से नकद मिलने वाले नोटों में भी दो हज़ार के नोट कम ही दिए जा रहे हैं.तो इसलिए अब बाज़ार में कम नज़र आएँगे दो हज़ार के नोट

उल्लेखनीय हैं कि सरकार के निर्देश पर बैंकों ने अपने एटीएम सेल को अब एटीएम में दो हजार रुपए के नोट नहीं भरने के निर्देश दिए हैं .अब एटीएम में दो हजार रुपए के खांचे को खत्म करके इसके स्थान पर 500 और 200 रुपए के नोट के खांचे लगाए जाएंगे. ऐसे में आने वाले समय में एटीएम से दो हजार रुपए के नोट मिलना बंद होने की आशंका है.

बता दें कि सरकार और आरबीआई पहले ही दो हजार रुपए के नए नोट न छापने का निर्णय ले चुके हैं.वित्त मंत्री अरुण जेटली यह बात कह चुके हैं कि दो हजार रुपए के नोट वापस नहीं होंगे, लेकिन सरकार ने इसका चलन कम करने का फैसला लिया है. ऐसे में बाज़ार में दो हज़ार के नोट कम ही नज़र आएँगे. पहले दो हजार का नोट छापना और फिर उसकी छपाई को बंद करने का फैसला समझ से परे है. 

=>
=>
loading...

You may also like

दुनिया का सबसे बड़ा रिकॉर्ड: बांटे गये 30 करोड़ LED बल्ब

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एनर्जी एफीसिएंसी सर्विसेज लि.