अब दलित जोड़ो अभियान के साथ संविधान बचाओ पदयात्राएं शुरू करेगी कांग्रेस

लखनऊ। मिशन 2019 की तैयारी में जुटी कांग्रेस अपना दलित एजेंडा दुरुस्त करेगी। संपर्क संवाद को बढ़ाते हुए अगले माह से संविधान बचाओ पदयात्राएं आरंभ की जाएगी। दलित जोड़ो अभियान में जिला केंद्रों पर हेल्प सेंटर भी स्थापित किए जाएंगे।अब दलित जोड़ो अभियान के साथ संविधान बचाओ पदयात्राएं शुरू करेगी कांग्रेस

उप्र अनुसूचित जाति विभाग के प्रांतीय पदाधिकारियों की राष्ट्रीय चेयरमैन नितिन राउत की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में लिए फैसलों की जानकारी देते हुए मीडिया प्रभारी सिद्धी श्री ने बताया कि संविधान बचाओ पदयात्रा के तहत पदाधिकारी और कार्यकर्ता गांव-गांव तक जाकर भाजपा व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संविधान विरोधी आचरण व नीतियों को उजागर करेंगे।

यह प्रचारित किया जाएगा कि एससी-एसटी वर्ग विरोधी मानसिकता वाली भाजपा आरक्षण समाप्त करने की साजिश रच रही है। साथ ही कांग्रेस की गत वर्ष 1917 से लगातार एससी-एसटी के विकास और हित में लागू तमाम जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी जन-जन तक पहुंचायी जाएगी।

सिद्धि श्री ने बताया कि प्रदेश में दलितों के खिलाफ बढ़ते अपराध व अराजकता के माहौल पर जनाक्रोश को देखते हुए कांग्रेस जिला स्तर पर कोआर्डिनेटर नियुक्त करेगी। उत्पीडि़त दलित महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए कोआर्डिनेटर विधिक सहयोग भी प्रदान करेंगे। अनुसूचित जाति विभाग द्वारा दलित हितों के लिए जिलावार दलित हेल्प सेंटर भी खोलेगा ताकि पीडि़त लोगों की समस्याओं का समाधान किया जा सकेगा। गत 23 अप्रैल को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में शुरू ‘संविधान बचाओ-देश बचाओ कार्यक्रम एक वर्ष तक लगातार चलाया जाएगा।

किसानों का छल रही भाजपा 

कांग्रेस प्रवक्ता ओंकारनाथ सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा किसानों को छल रही है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव प्रचार के दौरान किए किसी वादे को पूरा नहीं किया। कर्जा माफी के नाम पर किसानों से धोखा किया गया। गन्ना किसानों को बकाया पर ब्याज देना तो दूर असल मूल्य का भुगतान भी नहीं कराया जा रहा है। बेहाल किसान आत्महत्या करने को बाध्य हो रहा हैं। 

Patanjali Advertisement Campaign

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पीसीएस प्रोन्नति पर ग्रहण, नियुक्ति विभाग की मनमानी

नियुक्ति विभाग के एक पत्र ने 1996-97 बैच