भूल से भी घर में यहां ना लगाए ताला वरना जिंदगी भर आपकी किस्मत पर लग जायेगा ताला !

- in धर्म

मित्रों अक्‍सर देखा जाता है, कि लोग अपने घर की सुरक्षा हेतु घरों में ताला लगाते है, ताला और चाबी दोनों ही वस्‍तुये बहुत ही महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाने में कारगर है। आपको बता दे कि मकान हो या फिर ऑफिस सभी में ताले और चाबी का महत्‍व अत्‍याधिक होता है, सुरक्षा की दृष्टि से ताला व चाबी का प्रयोग करना आवश्‍यक तो है, पर कुछ ऐसी जगह है, जहां ताला चाबी का उपयोग नही करना चाहिये। (अधिक जानकारी के लिये नीचे दिये गये विडियों को देखें)

दरअसल इस संबंध में हमारे पौराणिक शास्‍त्रों में से सविस्‍तार बताया गया है, आपको बता दे कि वास्तुशास्त्र में भी ताले को लेकर कई नियम बताये गये है, इन नियमों का उलंघन करने से घर की सुरक्षा बढती है, हमे हमेशा घर में दिशाओं को ध्यान में रखते हुए ताले लगाने चाहिए, हालांकि इस संबंध मं लोगों के कई सवाल सामने आये है, आखिर कौन सी दिशा में कैसा ताला लगना चाहिये, आपको बता दे कि हमारे जीवन में वास्‍तु शास्‍त्र का सर्वाधित महत्‍व होता है।

वास्‍तु शास्‍त्र के अनुसार: पूरब दिशा की ओर सूर्य का स्थान माना जाता है, और इस दिशा में हमेशा तांबे के ताले लगाने चाहिए और इससे घर की सुरक्षा बढती है और चोरी का भय कम हो जाता है।

 

** पश्चिम दिशा को शनि का स्थान माना जाता है इस दिशा में हमें हमेशा लोहे के भारी ताले लगाने चाहिए और साथ ही पश्चिम दिशा में लगाये गय ताले का रंग काला हो तो घर में चोरी का खतरा नही होता है, इस दिशा में भूलकर भी तांबे के ताले नही लगाने चाहिए, अन्‍याथा इसका विपरीत प्रभाव पड़ सकता है।

अगर जीवन की हर समस्याओं को पल भर में करना हैं खत्म, तो आज ही अपनाएं ये उपाय

** उत्तर दिशा में पीतल के ताले लगाने से घर की सुरक्षा बड़ती है यदि इस दिशा में धातु के ताले लगा रहे है तो ध्यान रहें कि ताले का रंग सुनहरा हो, और दक्षिण दिशा में 5 धातु के ताले, ये भारी ताले लगाने से सुरक्षा बडती  है यदि 5 धातु के ताले नही है तो ताले पर लाल या चेरी रंग चढ़ाकर लगा सकते है। हालांकि इस संबंध में नीचे दिये गये विडियों में सविस्‍तार जानकारी दी गई है।

 

You may also like

भाग्यशाली स्त्रियों के शुभ लक्षण का निशान देखकर, आपको बिलकुल भी नहीं होगा यकीन…

कहते है की जो स्त्रियों होती है हमारे