पगड़ी न उतारने पर सिख छात्र को पब से किया बाहर

लन्दन में एक सिख छात्र के साथ ज्यादती करने का मामला सामने आया है जहाँ छात्र को पगड़ी पहनने की वजह से क्लब से बाहर निकाल दिया गया जिसके बाद से ही छात्र पीड़ित महसूस कर रहा है. बीबीसी की खबर के अनुसार, लंदन में रहने वाले 22 साल के अमरीक सिंह ने दावा किया है कि, उसे पगड़ी पहनने की वजह से कल नाटिंघमशायर के मैन्सफील्ड में ‘रश-लेट बार’ से बाहर कर दिया गया. सिंह को बताया गया कि, सुरक्षा की दृष्टि से बार में सर पर कुछ पहनकर जाने की अनुमति नहीं है.

अमरीक सिंह के अनुसार, उसने बाउंसर को बताया कि पगड़ी से उसके केशों की रक्षा होती है और यह उसके धर्म का हिस्सा है लेकिन उसकी यह बात नहीं सुनी गई और बाउंसर ने पहले उसे अपने दोस्तों से खींचकर दूर कर दिया और बाद में बार से बाहर निकाल दिया. इस घटना से छात्र को अपमानित महसूस हुआ और उसने अपनी व्यथा फेसबुक पर पोस्ट की. सिंह से कथित तौर पर यह भी कहा गया,  मुझे नहीं लगता कि तुम्हें पब में आने और ड्रिकं करने की इजाजत भी है. पीड़ित अमरीक सिंह ने फेसबुक पर लिखा था कि, मेरा दिल टूट गया है मुझे इसलिए निकाला गया क्योंकि मैंने पगड़ी उतारने से मना कर दिया था.

भारत के इस बयान का चीन ने किया स्वागत, इस कदम से सुधर सकते हैं रिश्‍ते

सिंह लंदन में नॉटिंघम से कानून की पढ़ाई कर रहे हैं उनके माता-पिता दोनों ही ब्रिटेन में पैदा हुए हैं हालांकि इसके बाद बार प्रबंधन ने सिंह से माफी मांगी है और साथ ही कहा है कि, दोषी स्टाफ को सस्पेंड किया जाएगा. बार ने ये भी कहा कि उनके यहां ऐसी कोई पॉलिसी नहीं है कि कोई सर पर कुछ नहीं पहन सकता. लंदन में सिखों को मुस्लिम मानकर अक्सर नस्लीय हमले होते रहते हैं.

सम्बंधित समाचार

You may also like

पाक ने की वर्ल्ड बैंक से शिकायत, कहा सिंधु जल संधि का उल्लंघन कर रहा भारत

पाकिस्तान के संयुक्त राष्ट्र मिशन के एक बयान