ग्लोबल बिडिंग के जरिये नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का देंगे ठेका, कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसले

लखनऊ। गौतमबुद्ध नगर जिले में जेवर के निकट नोएडा इंटरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट के निर्माण के लिए ग्लोबल बिडिंग के माध्यम से निर्माणकर्ता का चयन होगा। कैबिनेट ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने बताया कि भारत सरकार ने छह जुलाई, 2017 को कुछ शर्तों के साथ साइट क्लीयरेंस एवं नौ मई, 2018 को प्राथमिक अनुमोदन प्रदान किया। 29 मई को पर्यावरणीय अनुमति के लिए पर्यावरण मंत्रालय के समक्ष प्रस्तुतीकरण किया जा चुका है।ग्लोबल बिडिंग के जरिये नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का देंगे ठेका, कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसले

स्वीकृति मिलने की प्रक्रिया चल रही है। इस एयरपोर्ट के निर्माण में भूमि खरीदने के लिए चार हजार करोड़ रुपये की आवश्यकता है, जिसमें राज्य सरकार के नागरिक उड्डयन विभाग द्वारा बजट के माध्यम से 1500 करोड़, नोएडा अथारिटी द्वारा 1500 करोड़, ग्रेटर नोएडा अथारिटी और यमुना एक्सप्रेस-वे द्वारा 500-500 करोड़ रुपये उपलब्ध कराए जाएंगे। पिछली 29 मई को इसके लिए एमओयू पर हस्ताक्षर हो चुके हैं। एयरपोर्ट निर्माण के लिए राज्य सरकार सभी औपचारिकता पूरी करने में जुटी है। 

वाराणसी के पिंडरा तहसील के 10 गांव सदर में 

योगी सरकार ने आम जनता की सुविधा को देखते हुए वाराणसी जिले की पिंडरा तहसील के दस गांवों को सदर तहसील में शामिल करने का फैसला किया है। कैबिनेट ने मंगलवार को इस प्रस्ताव पर मुहर लगा दी। वाराणसी जिले की तहसील पिंडरा के ग्राम पंचायत दशनीपुर, नकछेदपुर, चौका, बेलवरिया एवं सुतबलपुर में शामिल ग्राम एकला, नकछेदपुर, रैचंदपुर, बेलवरिया, सोनकडीह, काजीचक, चौका, किशनापुर, दशनीपुर, सुतबलपुर की दूरी तहसील पिंडरा मुख्यालय से 25 किलोमीटर से अधिक है, जबकि सदर तहसील मुख्यालय से इनकी आठ किलोमीटर से भी कम है।

इस वजह से इन दस गांवों को पिंडरा तहसील से अलग कर सदर तहसील में शामिल किये जाने का प्रस्ताव डीएम और कमिश्नर ने भेजा था। इस पर मंजूरी मिलने के बाद पिंडरा तहसील के 432 गांव अब घटकर 422 और तहसील में कुल राजस्व ग्राम 559 के स्थान पर 569 हो जाएंगे। इस मामले में वित्त, न्याय एवं पंचायती राज विभाग द्वारा एनओसी दे दी गई थी। 

उप्र रेडियो पुलिस में महिला-पुरुष की एक साथ होगी भर्ती 

कैबिनेट ने उप्र पुलिस रेडियो अधीनस्थ सेवा (तृतीय संशोधन) नियमावली 2018 को मंजूरी दे दी है। इस फैसले से महिला और पुरुष अभ्यर्थियों की भर्ती एक साथ हो सकेगी। उल्लेखनीय है कि इस नियमावली के 2015 के नियम-12 (वैवाहिक प्रास्थिति) में संशोधन, भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षा की सहमति से आम जानकारी के लिए प्रकाशित की गई।

22 फरवरी, 2017 की अधिसूचना के अनुसार इसे प्रस्तावित किया गया। इस संशोधन में उप्र पुलिस रेडियो अधीनस्थ सेवा नियमावली, 2015 के नियम-14 (रिक्तियों का अवधारण) के अनुसार आरक्षित की जाने वाली रिक्तियों की संख्या महिला एवं पुरुष के लिए अलग-अलग निर्धारित की गई थी। नए संशोधन के मुताबिक महिला एवं पुरुष की भर्ती अब एक साथ होंगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लोअर पीसीएस-2015 के चयनितों को चार माह बाद भी नियुक्ति का इंतजार – राघवेन्द्र प्रताप सिंह

लखनऊ। एक ओर जहाँ सूबे की योगी आदित्यनाथ