नीतीश ने लालू को फोन कर जाना हाल, तेजस्वी बोले- 4 महीने बाद आई याद

- in बिहार, राजनीति

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लंबे समय के बाद अपने पूर्व सहयोगी और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को फोन कर उनके स्वास्थ्य का हालचाल जाना है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, लालू प्रसाद यादव का इलाज मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टिट्यूट में चल रहा है। लालू को यह फोन तब आया जब तेजस्वी यादव भी अपने पिता के साथ अस्पताल में मौजूद थे। उनके इस फोन कॉल के बाद राजनीतिक चर्चाओं का दौर एक बार फिर से गर्म हो गया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि आरजेडी और जेडीयू दोबारा साथ आ सकते हैं। नीतीश ने लालू को फोन कर जाना हाल, तेजस्वी बोले- 4 महीने बाद आई याद

हालांकि बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि राजद को नीतीश कुमार जैसे विश्वासघाती नेता का साथ मंजूर नहीं है। उन्होंने महागठबंधन में नीतीश कुमार की वापसी की अटकलों को सिरे से खारिज कर दिया। तेजस्वी ने कहा कि अब महागठबंधन में नीतीश कुमार के लिए कोई जगह नहीं है। तेजस्वी ने ट्वीट कर आगे लिखा कि रविवार को लालू यादव जी का फिस्टुला का ऑपरेशन हुआ था, लेकिन आश्चर्य है कि नीतीश जी ने पिछले चार महीने से बीमार लालूजी का हालचाल नहीं लिया। आज फोन कर पूछा। शायद उन्हें पता चला है कि भाजपा और एनडीए के लोग अस्पताल जाकर राजद सुप्रीमो का हालचाल ले रहे हैं, इसलिए उन्होंने भी फोन कॉल किया। 

तेजस्वी ने कहा कि कौन इस बात की गारंटी देगा कि नीतीश कुमार भाजपा के साथ दोबारा नहीं जाएंगे। जदयू को कभी महागठबंधन में शामिल नहीं किया जाएगा। मंगलवार को पत्रकारों से बात करते हुए तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार का बंटाधार किया है और जनादेश का अपमान किया है। नीतीश कुमार विश्वासघाती आदमी हैं और उन्होंने बिहार के सभी लोगों को धोखा देने का काम किया है।

इस सवाल पर कि अगर कांग्रेस नीतीश को साथ लाती है तो राजद का क्या रुख रहेगा, तेजस्वी ने कहा कि आप ऐसा क्यों सोच रहे हैं। जदयू के नेता राहुल गांधी के बारे में क्या कहते हैं, क्या कांग्रेस को सुनाई नहीं देता है। जब राहुल गांधी मुझे लंच पर लेकर गए थे तब इनके प्रवक्ताओं ने कहा था कि ये दो भ्रष्टाचारियों का मिलन है।

क्या कांग्रेस के नेता ऐसी बातों को भूल चुके हैं। कांग्रेस को सभी बातों की जानकारी है। तेजस्वी ने कहा कि कौन क्या बोल रहा है इस पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। हमारा कांग्रेस के साथ लंबे रिश्ते निभाने की बात हो रखी है। हम सब एक साथ मिलकर भाजपा को सत्ता से हटाएंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जवानों की हत्या को लेकर केजरीवाल ने PM मोदी से मांगा जवाब

बीएसएफ जवान नरेंद्र सिंह की शहादत के बाद