बड़ा खुलासा : आखिर क्यों युवराज सिंह से बिगड़े माही के रिश्ते, छोटी सी बात पर बन गये धोनी-युवराज दुश्मन दुश्मन !

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी काफी कूल मिजाज के माने जाते हैं लेकिन जब वो टीम के साथ जुड़े तो शुरुआती दौर में उन्हें युवी समेत साथी खिलाड़ी बिहारी कहकर पुकारते थे, धोनी को इस बात का बुरा भी लगता लेकिन वह ये बखूबी समझते कि साथी खिलाड़ी ये सब मजाकिया अंदाज में कहते हैं तो इसे माही इग्नोर कर दिया करते थे, मगर एक बार युवराज सिंह ने उन्हें कुछ ऐसा कहा, जिसपर धोनी ने आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ ही दी.

Loading...

अगर हम जब कभी भारतीय ​क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल कप्तान की बात करते हैं तो सबसे पहले जो दो नाम जुबान पर आते हैं, वे हैं महेंद्र सिंह धोनी और सौरव गांगुली, धोनी को सबसे ज्यादा जीत दिलाने का श्रेय जाता है तो वहीं लोग गांगुली को भारतीय टीम को संगठित करने के लिए जानते हैं.

आज हम बताओगे की धोनी और युवराज आखिर क्यों नहीं बात करते, इसके पीछे का राज आज धोनी ने खोल दिया हैं, सबसे पहले हम आपको बता दे कि युवराज सिंह इंडियन टीम में महेंद्र सिंह धोनी से पहले एंट्री ले चुके हैं, सौरव गांगुली की कप्तानी में युवराज सिंह ने खेलना शुरू किया था, युवराज सिंह ने शुरू से ही अपनी काबिलियत के दम पर टीम इंडिया के अंदर जगह बना रखी थी, इसके बाद सालों बाद धोनी को सौरव गांगुली नहीं टीम इंडिया के अंदर खेलने का मौका दिया था.

इस तरीके से तो आप जान ही चुके होंगे कि महेंद्र सिंह धोनी युवराज सिंह के जूनियर रहे हैं, लेकिन महेंद्र सिंह धोनी ने टीम इंडिया की कप्तानी काफी जल्दी संभाली और अपने आप को कप्तानी में काफी अच्छे से प्रूव किया, इसके बाद युवराज सिंह को टीम इंडिया से बाहर महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में किया गया, युवराज सिंह को छोड़ बाकी कई सीनियर खिलाड़ी और खासकर युवराज के पिता धोनी के ऊपर आरोप लगाते हैं कि धोनी ने उनको टीम इंडिया से बाहर करवाया है.

उसके बाद इस बात का खुलासा हुआ की युवराज उनको बिहारी करके बुलाते थे, इस बात का खुलासा धोनी की किताब से हुआ हैं तो अगर युवराज सिंह महेंद्र सिंह धोनी को बिहार ही बोल कर बुलाते थे तो वह शायद कहीं यही बात महेंद्र सिंह धोनी के दिमाग में शुरू से ही घर ना कर गई हो, कहीं वही कारण तो नहीं जिसकी वजह से युवराज सिंह को धोनी ने टीम से बाहर का रास्ता दिखाया था.

Loading...
loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com