बड़ा खुलासा: PNB महाघोटाले में आया नया मोड़ नीरव मोदी नहीं बल्कि किसी और का ही था हाथ

देश में अब तक के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले में रोज़ नए खुलासे हो रहे हैं. इस 11 हजार करोड़ के महाघोटाले में अब एक नया मोड़ आया है. सूत्रों के अनुसार, इस महाघोटाले को अंजाम देने के पीछे नीरव मोदी नहीं बल्कि किसी और का ही हाथ था. जानकारी मिली है कि, नीरव मोदी की पत्नी एमी ने देश के एक बड़े बैंक से इतनी धन दौलत निकलने का षड़यंत्र किया था और नीरव को अमेरिका भगाने में भी उन्ही का हाथ है.

दावा यह भी किया जा रहा है कि, इस घटना को अंजाम देने के लिए एमी मोदी ने हनीट्रैप को ब्रम्हास्त्र की तरह इस्तेमाल किया गया है, इस मामले में बॉलीवूड की कुछ मॉडल्स के नाम भी उजागर हुए हैं जिन्होंने बैंक के आला अफसरों को अपने हुस्न के जाल में फंसाकर इस घोटाले में शामिल किया था. हालांकि ख़ुफ़िया एजेंसियों द्वारा मामले की तह तक जांच की जा रही है. पंजाब नेशनल बैंक में हुए इस काण्ड को लेकर राजनीतिक हलचल भी तेज़ हो गई है, जहां एक ओर कांग्रेस अध्यक्ष इसके लिए नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला बोला है , वहीं भाजपा के दिग्गज नेताओं ने कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है

PNB महाघोटाला: दुनिया भर के एयरपोर्ट को नोटिस नीरव मोदी दिखे तो CBI को करे खबर

इस मामले से जुड़ी एक और बड़ी जानकारी ये है कि, पीएनबी की ब्रैडी फोर्ड ब्रांच के जिस पूर्व डिप्टी मैनेजर गोकुलनाथ शेट्टी को शनिवार को गिरफ्तार किया गया है, मामले की जाँच कर रही सीबीआई को शक है कि, 5 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने पर नियमानुसार शेट्टी का ट्रांसफर 2013 में हो जाना था जो अभी तक क्यों नहीं हुआ और किसके इशारे पर ट्रांसफर रोका गया. गौरतलब है कि, शेट्टी पर हीरा कारोबारी नीरव मोदी को बिना गारंटी LOU देने का आरोप है.

आपको बता दें कि, हीरा कारोबारी नीरव मोदी पर देश के बैंकिंग इतिहास के सबसे बड़े फ्रॉड में से एक पंजाब नेशनल बैंक के 11,500 करोड़ रुपये का महाघोटाला करने का आरोप है. नीरव मोदी और मेहुल चौकसी इस घटना के मुख्य आरोपी हैं, जिन्हे फ़ौरन गिरफ्तार करने का आदेश दे दिया गया है. इनके खिलाफ सीबीआई की तरफ से शिकायत के बाद एफआईआर दर्ज की गई है.

You may also like

व्यापम घोटाले में बढ़ सकती है शिवराज की मुश्किलें, दिग्विजय ने ठोका मुकदमा

भोपाल।  मध्यप्रदेश में मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश से जुड़े