नवाज शरीफ को जेल में नहीं मिला बिस्तर, वकीलों से की शिकायत

भ्रष्टाचार के मामले में सजा पाए पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को रावलपिंडी में कड़ी सुरक्षा वाली अदियाला जेल में रखा गया है। दोनों वीआईपी कैदियों को जेल में ‘बी श्रेणी’ की सुविधा दी गई है, लेकिन नवाज शरीफ ने शिकायत की है कि उन्हें इस श्रेणी की कोई भी सुविधा नहीं दी जा रही है। शनिवार को नवाज शरीफ ने एक सीनियर पुलिस अधिकारी की मौजूदगी में अपनी लीगल टीम से मुलाकात की, जिसमें उन्होंने सुविधाएं न मिलने की शिकायत की। 

सूत्रों की मानें तो नवाज शरीफ ने शिकायत की है कि उन्हें अखबार भी पढ़ने को नहीं दिया जा रहा है। उन्हें बिस्तर के नाम पर फर्श पर मात्र एक गद्दा दिया गया है और एक पंखा लगा है, जबकि वॉशरूम भी काफी गंदा है। 

बता दें कि इसी जेल में नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज भी हैं। उन्हें महिला बैरक में रखा गया है। हालांकि लीगल टीम को उनसे मिलने की इजाजत नहीं थी। सिर्फ उनके कानूनी वकील अमजद परवेज ही उनसे मिल सकते थे। बताया जा रहा है कि मरियम नवाज ने जेल में बेहतर सुविधाएं लेने से इनकार कर दिया है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) ने सोशल मीडिया पर मरियम नवाज का एक पत्र जारी किया है, जिसमें उनसे जेल में बेहतर सुविधाओं के लिए जेल अधीक्षक को एक आवेदन देने के लिए कहा गया था, लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया। 

गौरतलब है कि नवाज शरीफ और मरियम नवाज को भ्रष्टाचार के एक मामले में 6 जुलाई को क्रमश: 10 साल और 7 साल की सजा सुनाई गई थी। उसके बाद शुक्रवार रात दोनों लंदन से पाकिस्तान लौटे, जिसके बाद लाहौर हवाईअड्डे पर ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। उसके बाद शनिवार को दोनों की कोर्ट में पेशी हुई। हालांकि कोई फैसला नहीं हो पाया। नवाज शरीफ के वकील ख्वाजा हरिस सोमवार को अदालत के फैसले के खिलाफ अपील दायर करेंगे। उसके बाद ही ये पता चल पाएगा की नवाज और उनकी बेटी मरियम को जेल में ही रहना होगा या बेल मिल जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

भारत ने रोहिंग्याओं के लिए बांग्लादेश को राहत सामग्री प्रदान की

भारत ने हिंसा के कारण म्यामांर छोड़कर बांग्लादेश में शरणार्थी