मुस्लिम समाज ने देश में अमन के लिए होली पर बदल दिया नमाज का वक्त

अवध की सरजमीं ने एक बार फिर गंगा-जमुनी परंपरा को कायम रखा। दुनिया के सामने मिसाल पेश करते हुए मुस्लिम समुदाय ने रंगोत्सव पर नमाज का वक्त बदल दिया। जुमा और होली एक ही दिन होने पर, कहीं असामाजिक तत्वों के चलते पर्व की खुशियों में खलल न पड़ जाए, इस आशंका को ही उलमा के फैसले ने खत्म कर दिया। तहजीब के शहर में भाईचारा कायम रखने के लिए उलमा ने नमाज का समय एक बजे के बाद रखने की अपील की है।

अवध की सरजमीं ने एक बार फिर गंगा-जमुनी परंपरा को कायम रखा। दुनिया के सामने मिसाल पेश करते हुए मुस्लिम समुदाय ने रंगोत्सव पर नमाज का वक्त बदल दिया। जुमा और होली एक ही दिन होने पर, कहीं असामाजिक तत्वों के चलते पर्व की खुशियों में खलल न पड़ जाए, इस आशंका को ही उलमा के फैसले ने खत्म कर दिया। तहजीब के शहर में भाईचारा कायम रखने के लिए उलमा ने नमाज का समय एक बजे के बाद रखने की अपील की है। होली पर रंग इस बार शुक्रवार को खेला जाएगा। इसी दिन शहर की मस्जिदों में जुमे की नमाज में काफी बड़ी संख्या में नमाजी शामिल होते हैं। ऐसे में किसी नमाजी पर रंग न पड़े और असामाजिक तत्व इसका फायदा न उठा सकें, इसलिए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के चेयरमैन व ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने जुमे की नमाज का वक्त एक बजे के बाद कर दिया है। उन्होंने अन्य उलमा से भी ऐसा ही करने की अपील की है।  जरूरी है एक-दूसरे के धार्मिक जज्बात का ख्याल रखना मौलाना फरंगी महली ने कहा कि हिंदुस्तान की परम्परा रही है कि तमाम कौमें एक दूसरे के धार्मिक त्यौहार मिल जुल कर खुशी के माहौल में मनाती हैं। साथ ही एक दूसरे के धार्मिक जज्बात का ख्याल भी रखती हैं। उन्होंने कहा कि इस बार होली दो मार्च को खेली जाएगी। इसी दिन जुमा है। पूरे देश में मुसलमान मस्जिदों में जुमे की नमाज बड़े पैमाने पर अदा करते हैं। एक ही समय में दोनों चीजे होंगी। इसलिए हिन्दू भाइयों के त्यौहार का मुसलमान ख्याल करें।  उन्होंने कहा कि जो मस्जिदें मिली-जुली आबादी में हैं और नमाज का समय 12:30 से 1:00 के बीच है, वहां वक्त आधा घंटा बढ़ा लें। इससे होली खेलने वालों और नमाज अदा करने वालों को आसानी रहेगी। मौलाना ने कहा कि देश की गंगा-जमुनी तहजीब और हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे की मिसाल दुनिया के सामने पेश करने का ये अच्छा मौका है।  - मौलाना खालिद रशीद ने खुद पहल करते हुए ईदगाह की मस्जिद दारूल उलूम फरंगी महल में जुमे की नमाज का समय 12:45 से बढ़ा कर 1:45 कर दिया है।  - इमामे जुमा मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने आसिफी मस्जिद में जुमे की नमाज 12 बजे से बढ़ा कर एक बजे कर दिया है।  - शाहमीना शाह दरगाह के मुतवल्ली शेख राशि अली मीनाई ने मस्जिद शाहमीना शाह में नमाज का वक्त आधा घंटा बढ़ा कर 1:30 बजे कर दिया है।  - माल एवेन्यू स्थित दादा मियां दरगाह के मुतवल्ली फरहत मियां ने मस्जिद शाहे रजा में भी जुमे की नमाज का समय बढ़ा अवध की सरजमीं ने एक बार फिर गंगा-जमुनी परंपरा को कायम रखा। दुनिया के सामने मिसाल पेश करते हुए मुस्लिम समुदाय ने रंगोत्सव पर नमाज का वक्त बदल दिया। जुमा और होली एक ही दिन होने पर, कहीं असामाजिक तत्वों के चलते पर्व की खुशियों में खलल न पड़ जाए, इस आशंका को ही उलमा के फैसले ने खत्म कर दिया। तहजीब के शहर में भाईचारा कायम रखने के लिए उलमा ने नमाज का समय एक बजे के बाद रखने की अपील की है। होली पर रंग इस बार शुक्रवार को खेला जाएगा। इसी दिन शहर की मस्जिदों में जुमे की नमाज में काफी बड़ी संख्या में नमाजी शामिल होते हैं। ऐसे में किसी नमाजी पर रंग न पड़े और असामाजिक तत्व इसका फायदा न उठा सकें, इसलिए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के चेयरमैन व ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने जुमे की नमाज का वक्त एक बजे के बाद कर दिया है। उन्होंने अन्य उलमा से भी ऐसा ही करने की अपील की है।  जरूरी है एक-दूसरे के धार्मिक जज्बात का ख्याल रखना मौलाना फरंगी महली ने कहा कि हिंदुस्तान की परम्परा रही है कि तमाम कौमें एक दूसरे के धार्मिक त्यौहार मिल जुल कर खुशी के माहौल में मनाती हैं। साथ ही एक दूसरे के धार्मिक जज्बात का ख्याल भी रखती हैं। उन्होंने कहा कि इस बार होली दो मार्च को खेली जाएगी। इसी दिन जुमा है। पूरे देश में मुसलमान मस्जिदों में जुमे की नमाज बड़े पैमाने पर अदा करते हैं। एक ही समय में दोनों चीजे होंगी। इसलिए हिन्दू भाइयों के त्यौहार का मुसलमान ख्याल करें।  उन्होंने कहा कि जो मस्जिदें मिली-जुली आबादी में हैं और नमाज का समय 12:30 से 1:00 के बीच है, वहां वक्त आधा घंटा बढ़ा लें। इससे होली खेलने वालों और नमाज अदा करने वालों को आसानी रहेगी। मौलाना ने कहा कि देश की गंगा-जमुनी तहजीब और हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे की मिसाल दुनिया के सामने पेश करने का ये अच्छा मौका है।  - मौलाना खालिद रशीद ने खुद पहल करते हुए ईदगाह की मस्जिद दारूल उलूम फरंगी महल में जुमे की नमाज का समय 12:45 से बढ़ा कर 1:45 कर दिया है।  - इमामे जुमा मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने आसिफी मस्जिद में जुमे की नमाज 12 बजे से बढ़ा कर एक बजे कर दिया है।  - शाहमीना शाह दरगाह के मुतवल्ली शेख राशि अली मीनाई ने मस्जिद शाहमीना शाह में नमाज का वक्त आधा घंटा बढ़ा कर 1:30 बजे कर दिया है।  - माल एवेन्यू स्थित दादा मियां दरगाह के मुतवल्ली फरहत मियां ने मस्जिद शाहे रजा में भी जुमे की नमाज का समय बढ़ा कर 1:30 बजे कर दिया है।कर 1:30 बजे कर दिया है।होली पर रंग इस बार शुक्रवार को खेला जाएगा। इसी दिन शहर की मस्जिदों में जुमे की नमाज में काफी बड़ी संख्या में नमाजी शामिल होते हैं। ऐसे में किसी नमाजी पर रंग न पड़े और असामाजिक तत्व इसका फायदा न उठा सकें, इसलिए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के चेयरमैन व ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने जुमे की नमाज का वक्त एक बजे के बाद कर दिया है। उन्होंने अन्य उलमा से भी ऐसा ही करने की अपील की है।

जरूरी है एक-दूसरे के धार्मिक जज्बात का ख्याल रखना
मौलाना फरंगी महली ने कहा कि हिंदुस्तान की परम्परा रही है कि तमाम कौमें एक दूसरे के धार्मिक त्यौहार मिल जुल कर खुशी के माहौल में मनाती हैं। साथ ही एक दूसरे के धार्मिक जज्बात का ख्याल भी रखती हैं। उन्होंने कहा कि इस बार होली दो मार्च को खेली जाएगी। इसी दिन जुमा है। पूरे देश में मुसलमान मस्जिदों में जुमे की नमाज बड़े पैमाने पर अदा करते हैं। एक ही समय में दोनों चीजे होंगी। इसलिए हिन्दू भाइयों के त्यौहार का मुसलमान ख्याल करें।

उन्होंने कहा कि जो मस्जिदें मिली-जुली आबादी में हैं और नमाज का समय 12:30 से 1:00 के बीच है, वहां वक्त आधा घंटा बढ़ा लें। इससे होली खेलने वालों और नमाज अदा करने वालों को आसानी रहेगी। मौलाना ने कहा कि देश की गंगा-जमुनी तहजीब और हिन्दू-मुस्लिम भाईचारे की मिसाल दुनिया के सामने पेश करने का ये अच्छा मौका है।

– मौलाना खालिद रशीद ने खुद पहल करते हुए ईदगाह की मस्जिद दारूल उलूम फरंगी महल में जुमे की नमाज का समय 12:45 से बढ़ा कर 1:45 कर दिया है।

– इमामे जुमा मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने आसिफी मस्जिद में जुमे की नमाज 12 बजे से बढ़ा कर एक बजे कर दिया है।

– शाहमीना शाह दरगाह के मुतवल्ली शेख राशि अली मीनाई ने मस्जिद शाहमीना शाह में नमाज का वक्त आधा घंटा बढ़ा कर 1:30 बजे कर दिया है।

– माल एवेन्यू स्थित दादा मियां दरगाह के मुतवल्ली फरहत मियां ने मस्जिद शाहे रजा में भी जुमे की नमाज का समय बढ़ा कर 1:30 बजे कर दिया है।

You may also like

इमरान खान का मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- ‘भारत के अहंकारी और नकारात्‍मक जवाब से निराश हूं’

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को नरेंद्र