मल्टीनेशनल कंपनियों ने बिहार में निवेश की इच्छा जताई

- in बिहार, राज्य

पटना। बिहार को मैन्युफैक्चरिंग हब बनाने के उद्देश्य से उद्योग विभाग द्वारा मुम्बई में आयोजित इंवेस्टर मीट में बड़ी संख्या में उद्यमियों ने बिहार में निवेश की इच्छा जताई है। मल्टीनेशनल कंपनियों ने बिहार में निवेश की इच्छा जताई

निवेश आयुक्त आरएस श्रीवास्तव द्वारा जारी बयान के मुताबिक 16 अगस्त को पुणे के सेंट लॉर्न बिजनेस होटल कोरेगांव पार्क में एक इन्वेस्टर मीट आयोजित की गई। जिसमें इलेक्ट्रॉनिक प्रक्षेत्र की कंपनी जनरल इलेक्ट्रिकल्स, कृषि प्रक्षेत्र की कंपनी जॉन डिरे, महिन्द्रा के साथ-साथ मराठा चैंबर ऑफ कॉमर्स के सदस्यों ने भाग लिया।

बैठक में बिहार सरकार की ओर से उद्योग विभाग के प्रधान सचिव एस सिद्धार्थ और निवेश आयुक्त आरएस श्रीवास्तव ने निवेशकों को बिहार की उद्योग नीति के बारे में विस्तार से जानकारी दी। दोनों अधिकारियों ने निवेशकों को बताया कि बिहार की औद्योगिक नीति 2016 में इलेक्ट्रॉनिक, आइटी, फूड प्रोसेसिंग एवं टेक्सटाइल प्रक्षेत्र को उच्च प्राथमिक क्षेत्र में रखा गया है। औद्योगिक नीति में निवेशकों के लिए कई किस्म की छूट के प्रावधान भी  हैं।

जमीन निबंधन, सम्परिवर्तन पर शत प्रतिशत छूट, टैक्स संबंधी छूट के साथ ही ब्याज पर सब्सिडी के प्रावधान भी नीति में शामिल हैं। बिहार में उद्योग लगाने में अनावश्यक विलंब से बचा जा सके इसके लिए सिंगल विंडो सिस्टम भी लागू है। जो चीनी मिलें बंद हो चुकी है उन्हें चिन्हित कर बड़ा भूमि बैंक भी तैयार किया गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बहराइच: मंत्री लगा रहीं ठुमके, बुखार से बच्चों की मौत का क्रम जारी

बहराइच तथा पास के जिलों में संक्रामक बुखार