काश, 15 अगस्त के अपने ‘आखिरी भाषण’ में सच बोलते पीएम मोदी: कांग्रेस

- in राष्ट्रीय

कांग्रेस ने स्वतंत्रता दिवस के मौके लाल किले की प्राचीर से दिए गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण को ‘खोखला’ करार देते हुए कहा कि बेहतर होता, अगर मोदी अपने इस ‘आखिरी भाषण’ में राफेल, अर्थव्यवस्था की स्थिति और नफरत के महौल पर सच बोलते.काश, 15 अगस्त के अपने 'आखिरी भाषण' में सच बोलते पीएम मोदी: कांग्रेस

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्रीको राफेल और कुछ अन्य मुद्दों पर बहस करने की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की चुनौती स्वीकार करनी चाहिए. उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को राफेल पर बहस की चुनौती दी है. हम चाहते हैं कि मोदी जी राहुल गांधी की चुनौती करें. वह राफेल, व्यापमं, भ्रष्टाचार, किसान और रोजगार, देश में फैली अफरातफरी, गिरती अर्थव्यवस्था पर और नफरत के माहौल पर बहस करें.’

सुरजेवाला ने कहा, ‘स्वतंत्रता दिवस का मोदी जी का आखिरी भाषण खोखला साबित हुआ. प्रधानमंत्री न राफेल पर बोले, न व्यापमं पर बोले, न छत्तीसगढ़ के पीडीएस घोटाले पर बोले. देश में नफरत का माहौल फैलाया जा रहा है, उस पर भी वह कुछ नहीं बोले. चीन और पाकिस्तान आंखे दिखा रहे हैं, इस पर वह कुछ नहीं बोले.’

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘काश, मोदी जी अपने भाषण में सच्चाई बोल पाते. इस देश में अच्छे दिन आए नहीं, लेकिन देश को सच्चे दिन का इंतजार है. ये सच्चे दिन उस वक्त आएंगे जब मोदी जी जाएंगे.’ बता दें कि लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित कर रहे मोदी ने इस बार प्रधानमंत्री जन आरोग्य अभियान, देश की अर्थव्यवस्था में सुधार, मुद्रा योजना और स्वच्छ भारत मिशन के सकारात्मक प्रभाव, जम्मू-कश्मीर, पूर्वोत्तर, माओवाद, किसानों, तीन तलाक विरोधी विधेयक और कई अन्य मुद्दों के बारे में बात की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पदोन्नति में आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया ये बड़ा फैसला…

पदोन्नति में आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट ने आज एक