मोदी सरकार का बड़ा दावा- 7 साल में दोगुनी होगी भारत की अर्थव्यवस्था

- in कारोबार

वैश्व‍िक संस्थाओं की तरफ से भारतीय अर्थव्यवस्था के तेज रफ्तार से बढ़ने की भव‍िष्यवाणी करने के बाद मोदी सरकार ने भी इस भविष्यवाणी को सही ठहराया है. वित्त मंत्रालय ने सोमवार को कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था 2025 तक दोगुनी हो जाएगी. मंत्रालय के मुताबिक 2025 तक इकोनॉमी 5 हजार अरब डॉलर की हो जाएगी. 

मोदी सरकार का बड़ा दावा- 7 साल में दोगुनी होगी भारत की अर्थव्यवस्थावित्त मंत्रालय ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था 2025 तक दोगुनी होगी. यह तेज रफ्तार से बढ़ते हुए 5,000 अरब डॉलर तक पहुंच जाएगी. मंत्रालय ने इसके साथ ही कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा तय मुद्रास्फीति के लक्ष्य को लेकर कोई खतरा नहीं है.

आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था 7 से 8 फीसदी की दर से बढ़ने के प्रति अग्रसर है. स्टार्टअप, एमएसएमई और बुनियादी ढांचे के निवेश पर ध्यान दिए जाने से इकोनॉमी की रफ्तार और भी बढ़ेगी. इसमें लगातार तेजी आ सकती है.

गर्ग भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे. इसमें उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि अगर अगले 7-8 सालों के भीतर वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन बढ़ता है और मांग का सृजन होता है, तो हम 2025 तक अर्थव्यवस्था के आकार को 5,000 अरब डॉलर तक पहुंचा सकेंगे. यह एक उ‍चति लक्ष्य है.

बता दें कि फिलहाल भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का आकार 2,500 अरब डॉलर का है. यह दुनिया की 6वीं छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है. मुद्रास्फीति को लेकर गर्ग ने कहा क‍ि यह काफी हद तक रिजर्व बैंक के लक्ष्य चार प्रतिशत ( दो प्रतिशत ऊपर या नीचे) के दायरे में है.

थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति फरवरी में सात महीने के निचले स्तर 2.48 फीसदी पर आ गई है. उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति फरवरी में चार महीने के निचले स्तर 4.44 प्रतिशत पर रही है. रिजर्व बैंक ने अपनी फरवरी की मौद्रिक समीक्षा में नीतिगत दरों में बदलाव नहीं किया था.

You may also like

अरुण जेटली ने कहा- NBFC में तरलता बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगी सरकार

निवेशकों की चिंता को कम करने के लिहाज