कर्नाटक चुनाव परिणाम में BSP का खुला खाता, मायावती को मिली संजीवनी

- in राजनीति
उत्तर प्रदेश में खराब राजनीतिक दौर से गुजर रही बसपा के लिए दक्षिण के राज्य कर्नाटक से अच्छी खबर है। जद-एस के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ने वाली बसपा ने राज्य में अपना खाता खोला है। उसके प्रदेश अध्यक्ष एन महेश ने कोल्लेगला विधानसभा सीट से जीत हासिल की है। इसके साथ ही वोट शेयर के लिहाज से वह राज्य में चौथे नंबर की पार्टी बनकर उभरी है। कर्नाटक चुनाव परिणाम में BSP का खुला खाता, मायावती को मिली संजीवनी

 

एससी सुरक्षित सीट कोल्लेगल से खड़े महेश को 71792 वोट मिले जबकि उनके करीबी प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस उम्मीदवार को 52338 वोट ही मिले। वहीं भाजपा प्रत्याशी को 39690 वोट मिले। इस विधानसभा सीट पर कुल 193293 मतदाता हैं। बसपा को राज्य में 0.3 फीसदी (106809 वोट) वोट मिले। कोल्लेगल सीट पर 1989 के बाद कोई भी उम्मीदवार दोबारा नहीं जीता है। पिछले चुनाव में वह दूसरे नंबर पर थे। वह जिस इलाके में रहते हैं, वहां उत्तर प्रदेश के दलितों का एक बड़ा तबका रहता है।
 
बसपा ने राज्य में जद-एस के साथ गठबंधन कर 18 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे। इनमें महेश समेत 11 उम्मीदवार दलित समुदाय से थे। पार्टी ने राज्य में पिछली बार 1994 के चुनाव में बिदर सीट जीती थी। कोल्लेगल सीट पर जीत के साथ बसपा को राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा भी बचाने में मदद मिलेगी। पार्टी का लोकसभा में एक भी सांसद नहीं है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पेट्रोल की बढ़ी कीमतों को लेकर पैदल मार्च कर रहे कांग्रेसी आपस में भिड़े

कानपुर : डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस की