मराठा आरक्षण आंदोलन में औरंगाबाद में युवक ने की खुदकुशी और FB पर लिखा ये…

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण आंदोलन की मांग को लेकर प्रमोद पाटिल नाम के एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली है. 31 साल के पाटिल ने औरंगाबाद के मुकुंदवाड़ी रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन के सामने कूदकर अपनी जान दे दी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाटिल ने आत्महत्या करने से पहले फेसबुक पर एक पोस्ट भी लिखा जिसमें उन्होंने अपनी मौत का कारण मराठा आरक्षण आंदोलन को बताया. पाटिल ने मरने से पहले अपने फेसबुक अकाउंट पर लिखा, ‘आज एक मराठा जा रहा है, और अपने जीवन को मराठा आंदोलन के लिए कुर्बान कर रहा है.’मराठा आरक्षण आंदोलन में औरंगाबाद में युवक ने की खुदकुशी और FB पर लिखा ये...

आंदोलन के लिए की खुदकुशी

खबरों के मुताबिक पाटिल बिना बताए घर से निकल गया था और जब काफी देर तक घर नहीं पहुंचा तो घरवालों ने उसकी छानबीन शुरू कर दी. काफी ढूंढने पर भी जब पाटिल नहीं मिला तो पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई. पुलिस ने छानबीन की तो पुलिस को पाटिल का शव रेल की पटरी पर मिला.

बताया जा रहा है कि पाटिल अपने जीवन में अच्छी नौकरी नहीं मिलने से परेशान था, उसने नौकरी के लिए कई बार एग्जाम भी दिए थे लेकिन हर बार उसे असफलता का सामना करना पड़ा था जिसके चलते वो तनाव में आ गया था. पाटिल के परिवार में पत्नी और दो बच्चे भी हैं. अब पुलिस मामले की जांच कर रही है.

पहले भी हुई है आत्महत्या

महाराष्ट्र में मराठा लोगों के लिए आरक्षण की मांग को लेकर पिछले काफी दिनों से आंदोलन हो रहा है. इस घटना से पहले भी आत्महत्या का एक मामला सामने आया था जब 28 साल के युवक काकासाहब शिंदे ने गोदावरी नदी में कूदकर आत्महत्या की थी. शिंदे ने भी अपनी मौत का कारण आंदोलन को बताया था. मराठों को आरक्षण देने की मांग को लेकर पिछले दिनों महाराष्ट्र बंद का भी ऐलान किया गया था. महाराष्ट्र में मराठों को आरक्षण के मुद्दे पर लगातार सरकार को चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है.

Patanjali Advertisement Campaign

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यूपी विधानमंडल मानसून सत्र के पहले दिन अटलजी को दी गयी श्रद्धांजलि

लखनऊ। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन