दिल्ली के ज्वैलरी शोरूम में हुई लूट, नकदी और 50 लाख से ज्यादा के गहने हुए चोरी

- in अपराध

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली के पांडव नगर स्थित एक ज्वैलरी शोरूम में कार सवार बदमाशों ने बृहस्पतिवार को दिनदहाड़े डाका डाला। बदमाश शोरूम से करीब 50 लाख रुपये के गहने और नकदी आदि लूट ले गए। लूट की ये वारदात पांडव नगर स्थित कनिशका ज्वैलर्स के यहां हुई है।बताया जा रहा है कि दोपहर करीब 12 बजे एक कार से पांच बदमाश शोरूम के बाहर पहुंचे। बदमाशों ने कार सड़क पर खड़ी की इसके बाद हथियार लेकर अंदर घुस गए।

अंदर घुसते ही बदमाशों ने हथियारों के बल पर सभी को बंधक बना लिया। उस वक्त शोरूम के मालिक विजय और उनकी पत्नी प्रियंका भी दुकान में ही मौजूद थे। लुटेरों ने जान से मारने की चेतावनी देकर शोरूम में रखी 50 लाख रुपये से ज्यादा की ज्वैलरी और कैश काउंटर में रखी नकदी लूट ली। बदमाश थोड़ी देर में ही वारदात को अंजाम देकर निकल गए। बदमाशों के भागने के बाद शोरूम मालिक ने पुलिस को सूचना दी।

शोरूम का डीवीआर ले गए बदमाश

सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस बदमाशों की धरपकड़ का प्रयास कर रही है। पुलिस ने आसपास बदमाशों की तलाश का प्रयास भी किया लेकिन कामयाबी नहीं मिली। पुलिस के अनुसार बदमाशों की पहचान करने के लिए शोरूम के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की जांच-पड़ताल की जा रही है। दरअसल बदमाश शोरूम के अंदर की डीवीआर (सीसीटीवी का डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर) भी अपने साथ ले गए हैं। पुलिस के अनुसार अगर कार की पहचान भी हो गई तो बदमाशों तक आसानी से पहुंचा जा सकता है।

रेकी या मुखबिरी की आशंका

पुलिस का अनुमान है कि बदमशों ने शोरूम की अच्छे से रेकी करने के बाद वारदात को अंजाम दिया है। या फिर बदमाशों को सटीक मुखबिरी की गई है। लिहाजा पुलिस बदमाशों तक पहुंचने के लिए सर्विलांस का भी सहारा ले रही है।

फॉरेंसिक नमूने भी लिए जा रहे

बदमाशों तक पहुंचने के लिए पुलिस मौके से फॉरेंसिक नमूने भी एकत्र कर रही है। शोरूम में मौजूद बदमाशों के फिंगर प्रिंट के नमूने भी एक्त्र किए गए हैं। हालांकि लूट कितने की हुई है और पुलिस को क्या सुबुत मिले हैं। इस संबंध में पुलिस ने अभी कोई आधिकारिक सूचना नहीं दी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

छोटी सी बात पर प्रेमिका ने प्रेमी को मारा चाकू, वीडियो बनाते रहे लोग

आए दिन होने वाली अपराध की घणाए कम