स्थानीय निकाय चुनावः निर्वाचन की मशीनरी पहले ही मोर्चे पर हुई फेल

देहरादून: नगर निकाय चुनाव की तैयारियों को लेकर निर्वाचन की मशीनरी पहले ही मोर्चे पर विफल नजर आ रही है। जिन नामांकन पत्रों की बिक्री के निर्देश राज्य निर्वाचन आयोग ने 16 अक्टूबर तक करने को कहा था, वह अगले दिन 17 अक्टूबर तक भी नहीं की जा सकी।

पंचस्थानीय चुनावालय के सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी वीएस चौहान ने बताया कि उनके कार्यालय में नामांकन पत्र मंगलवार देर शाम करीब सात बजे तक पहुंच पाए। इसके बाद बुधवार दोपहर तक इन्हें भेजने की कवायद शुरू की जा सकी। हालांकि इस काम में भी तीन बजे से अधिक का समय हो गया। ऐसे में 17 अक्टूबर को भी नामांकन पत्रों की बिक्री नहीं की जा सकी थी। हालांकि जिला सहायक निर्वाचन अधिकारी चौहान का कहना है कि जल्द सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद नजर आने लगेंगी।

चुनाव ड्यूटी के लिए कसरत

चुनाव ड्यूटी के लिए पंचस्थानीय चुनावालय में कार्मिकों के नामों की सूची तैयार की जा रही है। ज्यादातर विभागों से नाम पहुंच चुके हैं, जबकि कुछ विभागों से नाम आने अभी बाकी हैं। इसके साथ ही भेजे गए नामों के सापेक्ष चुनाव ड्यूटी की तैयारी भी शुरू की जा रही है।  

नगर निगम के नए भवन में बिकेंगे नामाकंन पत्र

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी एसए मुरूगेशन ने नामांकन पत्रों की बिक्री, प्राप्ति, जांच व प्रतीक चिह्नों के आवंटन को स्थल निर्धारित कर दिए हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि नगर निगम देहरादून में महापौर पद के नामांकन पत्रों की बिक्री, प्राप्ति, जांच व प्रतीक चिह्नों के आवंटन को नए भवन के कक्ष संख्या सात को चयनित किया गया है।

पार्षद पदों को वार्ड एक से 15 तक कक्ष एक, वार्ड 16 से 30 तक के लिए कक्ष दो, वार्ड 31 से 45 तक के लिए कक्ष तीन, वार्ड 46 से 60 तक के लिए कक्ष चार, वार्ड 61 से 75 तक के लिए कक्ष पांच, वार्ड 76 से 90 तक के लिए कक्ष छह व शेष 100 तक के वार्डों के लिए कक्ष संख्या सात निर्धारित किया गया है। 

इसी तरह नगर निगम ऋषिकेश, नगर पालिका परिषद मसूरी, डोईवाला, विकासनगर व हरबर्टपुर के लिए भी कक्ष आवंटित कर दिए गए हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी निर्वाचन अधिकारियों व सहायक निर्वाचन अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निर्धारित स्थलों पर नामांकन प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

चुनाव तक मोबाइल ऑफ नहीं कर सकेंगे अधिकारी

निकाय चुनाव की प्रक्रिया पूरी होने तक अधिकारी अपना मोबाइल ऑफ नहीं करेंगे। साथ ही हर समय अलर्ट मोड में रहेंगे। यह हिदायत जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी एसए मुरुगेशन ने निर्वाचन व सहायक निर्वाचन अधिकारियों के प्रशिक्षण के दौरान दी। 

प्रशिक्षण के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी एसए मुरुगेशन ने कहा कि सभी अधिकारी उप जिला निर्वाचन अधिकारी अपर जिलाधिकारी बीर सिंह बुदियाल, मुख्य विकास अधिकारी जीएस रावत व सिटी मजिस्ट्रेट मनुज गोयल के संपर्क में बने रहें। 

नामांकन पत्रों की बिक्री से ही सभी अधिकारी पूरे समय अपने स्थलों पर तैनात रहेंगे और नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी के समय विशेष सावधानी बरती जानी चाहिए। यह देखा जाना चाहिए कि पूरा विवरण सही ढंग से भरा है या नहीं और सभी संलग्नक भली-भांति लगे हैं या नहीं। पूरी प्रक्रिया का रिकॉर्ड मेंटेन होना चाहिए और कोई भी काम कल पर न टाला जाए। यदि किसी भी काम को लेकर कभी भी शंका हो तो तुरंत संबंधित उप निर्वाचिन अधिकारियों से उसका समाधान करा लें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) अरविंद पांडे, दून घाटी विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण के सचिव एसएल सेमवाल आदि उपस्थित रहे।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button