डेविड वार्नर कि जिंदगी में आया भूचाल, किसी भी वक्त हो सकती है….

- in खेल

दोस्तों क्रिकेट मैच के दीवाने सब ही है, आपको बता दे कि डेविड वार्नर को गेंद के साथ छेड़खानी करने कि वजह से पहले ही 12 महीनो के लिए क्रिकेट पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया है | ऐसे में उनको ना तो मैच के मैदान में जाने कि अनुमति है और ना ही वो क्रिकेट के किसी भी मैच को खेल सकते है | बॉल टेम्परिंग के मामले में बुरे फसे डेविड वार्नर पर अब जिंदगी ने एक और कहर बरपा दिया है| दरसल हुआ कुछ यु है कि केपटाउन में हुए तीसरे टेस्ट के दौरान बॉल टैंपरिंग का मामला अब एक बार और सामने आ गया है. इस बार यह मामला किसी खिलाड़ी को लेकर नहीं है, बल्कि डेविड वार्नर की पत्नी कैंडिस वार्नर को लेकर है. डेविड वार्नर की पत्नी ने अॉस्ट्रेलिया में महिलाओं की एक साप्ताहिक पत्रिका से बॉल टैंपरिंग मामले को लेकर अपनी निजी जिंदगी का एक राज खोला है. कैंडिस वार्नर के अनुसार उन्होंने इस टेंशन में अपने एक बच्चे को खो दिया है|

डेविड कि पत्नी ने किया खुलासा

दरअसल डेविड वार्नर कि पत्नी ने खुद ही इस बात का खुलासा किया है कि वो अपने पति के साथ ज्यादातर सफर में रही जिसका ये अंजाम हुआ कि उन्हें अपना बच्चा खोना पड़ा| उनकी पत्नी ने खा कि जब मै बाथरूम में बैठी थी तब मेरे खूब खून बहा| जिसके बाद मैंने वार्नर को बुला कर दिखाया| हम समझ गए थी कि हम अपना बच्चा खो चुके है |

ये तीसरा बच्चा था वार्नर का

आपको शायद जानकार हैरानी होगी , या शायद आप सोच रहे होंगे कि शायद वार्नर का ये पहला बच्चा था| मगर ऐसा नहीं है | उन्होंने वीमेंस वीकली से बातचीत में कहा, “मैं प्रेगनेंसी के पहले स्टेज में थी, मेरे शरीर में बदलाव अा रहा था, हम बहुत खुश थे, हमें पता था कि एक और नन्हां मेहमान अाने वाला है. हम इसके लिए पिछली जुलाई से कोशिश कर रहे थे, जब मैं केप टाउन गई तो मैंने टेस्ट करवाया था.” इस घटना के पीछे मिसेज वार्नर ने तनाव और घर के लिए लंबी उड़ान को दोषी ठहराया है, बता दें कि इस समय उनके दो बच्चे आइवी माए और इंडी राए हैं|

12 साल बाद स्वीडन में फैली खुशी, मैक्सिको को हराकर नॉकआउट में किया प्रवेश

साथी ने ही किया था खुलासा

केपटाउन में हुए तीसरे टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरन बैनक्रॉफ्ट ने यह स्वीकार किया था कि उन्होंने ‘बॉल टैंपरिंग’ यानी गेंद से छेड़छाड़ की थी. वहीं, ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने भी माफी मांगते हुए कहा है कि वह भी इस योजना के बारे में पहले से जानते थे|

सबके सामने मांगी थी माफ़ी,वार्नर ने कहा कि अब ऐसा कभी नहीं करूंगा

30 वर्षीय वार्नर ने कहा कि अब मैं वैसा नहीं करूंगा जैसा मैंने उस समय किया था। मैं मैदान पर अधिक संतुलित रहता हूं। रूट के साथ हुई उस घटना ने मेरी जिंदगी ही बदल डाली। लेकिन अगर अब रूट मुझे मैदान पर दिखेंगे तो मैं उनसे हाथ मिलाऊंगा।

काश जैसा उनके साथ हुआ किसी के साथ ना हो

हम भगवान् से प्रार्थना करते है कि जो उनके साथ हुआ वैसा और किसी के साथ न हो | दरअसल ऐसी घटनाए अक्सर दिल तोड़ देती है | जो कुछ भी सोचने समझने कि हिम्मत ख़त्म कर देती है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पैदल चाल प्रतियोगिता 2 अक्तूबर को

राज्यमंत्री स्वाती सिंह सुबह 7 बजे करेंगी पैदल