बेटे की शादी के लिए लालू को मिली तीन दिन की पैरोल, समर्थकों ने मनाया जश्न

- in राष्ट्रीय

राष्ट्रीय जनता जल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव को अपने बेटे तेज प्रताप यादव की शादी में शामिल होने के लिए गुरुवार को तीन दिन की पैरोल दे दी गई है. चारा घोटाले में लालू इन दिनों जेल में सजा काट रहे हैं. जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पैरोल मिलने के बाद लालू रांची के बिरसा मुंडा हवाई अड्डे के लिए रवाना हो गये जहां से शाम छह बज कर चालीस मिनट पर वह पटना पहुंचेंगे.

रांची के रिम्स में हो रहा इलाज

पिछले साल दिसंबर में केंद्रीय जांच ब्यूरो की एक विशेष अदालत ने चारा घोटाले से जुड़े तीन मामलों में लालू को दोषी ठहराया था. फिलहाल उनका रांची के रिम्स अस्पताल में इलाज चल रहा है. पैरोल स्वीकृत होने के बाद लालू यादव को गुरुवार शाम लगभग चार बजे यहां रिम्स अस्पताल में न्यायिक हिरासत से रिहा कर दिया गया. रिम्स ने भी बुधवार शाम मेडिकल बुलेटिन जारी कर लालू को स्वस्थ बताया और कहा था कि वह यात्रा के लिए फिट हैं.

महानिरीक्षक (जेल) हर्ष मंगला ने पीटीआई-भाषा को बताया कि लालू को तीन दिन की पैरोल दी गई है. मंगला ने कहा कि नियमों के मुताबिक यात्रा में लगने वाले समय को पैरोल की अवधि में नहीं गिना जाएगा. आरजेडी के महासचिव और लालू के करीबी भोला यादव ने रांची में पीटीआई-भाषा को बताया कि वह शाम की फ्लाइट से पटना जाने की योजना बना रहे हैं.
आज शाम की फ्लाइट से पटना जाने के लिए टिकटों की व्यवस्था कर ली गई है.

महिला ट्रांसलेटर पर भड़के अमित शाह, कहा-मैं जो बोलूं वही बोलो

14 मई को राची लौट जाएंगे

साथ ही उन्होंने बताया कि लालू 14 मई को रांची लौट आएंगे जिस दिन पैरोल खत्म हो रही है. गौरतलब है कि चारा घोटाला से जुड़े मामलों में लालू फिलहाल जेल की सजा काट रहे हैं. जेल के अधीक्षक अशोक चैधरी ने बताया कि लालू को 14 मई को सुबह 11 बजे तक वापस जेल में रिपोर्ट करना होगा. लालू के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व मंत्री तेज प्रताप यादव और आरजेडी विधायक चंद्रिका राय की बेटी की शादी 12 मई को पटना में होनी है.

इस बीच लालू के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया था कि सोमवार की रात आरजेडी प्रमुख की ओर से दाखिल आवेदन में पांच दिन की पैरोल मांगी गई थी लेकिन उन्हें तीन ही दिन की पैरोल मिली. इस संबंध में पूछने पर झारखंड जेल के महानिरीक्षक ने बताया कि हमने जरूरत को ध्यान में रखते हुए इस मामले में फैसला किया.

तेजप्रताप की सगाई में नहीं पहुंंच पाए थे लालू

मंगला ने बताया कि लालू को कुछ शर्तों के साथ पैरोल दिया गया है जिसमें उनसे मीडिया में बयान देने और प्रेस ब्रीफिंग करने से परहेज करने को कहा गया है. साथ ही लालू को निर्देश दिया गया कि वह अपने पुत्र के विवाह के अलावा किसी भी अन्य सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे तथा समय से वापस बिरसा मुंडा जेल में रिपोर्ट करेंगे. लालू 18 अप्रैल को हुई अपने बेटे की सगाई में नहीं पहुंच पाए थे.

लालू के पटना आने की खबर मिलने के बाद आरजेडी समर्थकों में खुशी की लहर है. लालू की पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को सर्कुलर रोड पर आवंटित किए गए बंगले में लालू को पैरोल मिलने की खबर के बाद लालू जिंदाबाद के नारे लगने लगे. पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा कि हमें खुशी है कि आखिर हमारे नेता को उनके बेटे की शादी में शामिल होने की इजाजत मिल गई. हालांकि हम उनके साथ हर स्तर पर किए गए दुर्व्यवहार से निराश हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अब देश छोड़कर नही भाग सकेंगे माल्या-नीरव लोग, सरकार कर रही ये तैयारी

बैंकों का कर्ज नहीं चुकाने वालों के लिए