लालू के चूड़ा-दही खाने पर बोले जज- व्‍यवस्‍था करवा देंगे…

पटना/रांची। मकर संक्रांति का समय हो और लालू यादव का दही-चूड़ा प्रेम सामने न आये, ऐसा हो ही नहीं सकता है। पिछले साल लालू यादव के पटना आवास पर दो दिनों तक दही-चूड़ा का भोज चला था। लेकिन इस साल लालू जेल में हैं, फिर भी उनका दही-चूड़ा प्रेम जाग गया।लालू के चूड़ा-दही खाने पर बोले जज- व्‍यवस्‍था करवा देंगे...

दरअसल, लालू बुधवार को डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित मामले में सीबीआई के विशेष न्यायाधीश प्रदीप कुमार की अदालत में पेश हुए। इस दौरान लालू और सीबीआइ कोर्ट के विशेष जज शिवपाल सिंह से संवाद हुआ है। लालू ने कहा कि मकर सक्रांति आ गया है। फ्री होते तो हम लोग सक्रांति के दिन चूड़ा-दही खाते, सर! लालू की इस बात पर जज ने कहा कि हम यहीं व्यवस्था करा देंगे। कितना दही चाहिए ?

लालू यादव ने कहा कि यह विभाग तो हम यादव लोगों का ही है सर! रिहा होकर जाते तो आप को भी  बुलाकर चूड़ा खिलाते। आप हम लोग को रिहा करेंगे न सर, तो दो तीन दिन इधर जंगल में ही रह जाएंगे। जज और लालू प्रसाद यादव के बीच का यह संवाद उस समय का है जब वे विशेष न्यायाधीश प्रदीप कुमार की अदालत में पेश हुए। कोर्ट में लालू प्रसाद ने जज के समक्ष बार-बार आग्रह कर रहे थे कि जेल में मिलने वालों की संख्या 3 की गई है, उसे बढ़ा दिया जाए। साथ ही कहा कि कोर्ट में आने में बहुत धक्का-मुक्की होता है, इसे ठीक से देख लीजिए।

जज ने कहा कि आप की सुरक्षा के लिए सभी लोग तैयार हैं। बोलिए कहां खाली कराना है? आप के कार्यकर्ता ही तो भीड़ लगाए रहते हैं। लालू ने फिर कहा कि मिलने वाला कर दीजिए सर! ओपन जेल के संबंध में लालू प्रसाद ने कहा कि हम लोग के साथ जेल में हार्डकोर जैसा व्यवहार होता है। सजा के दिन हमने एक भी शब्द नहीं बोला था। हम लोग को आप ही के कस्टडी में है कुछ होगा तो आप ही न जिम्मेदार होईयेगा।

लालू ने कहा कि हम लोग को एक ही दिक्कत है महोदय कि अधीक्षक एक ही दिन में तीन लोग को मिलने की अनुमति दी है। हुजूर आपके पास तो बहुत पावर है जिसको चाहे इधर घुमा दीजिए। जजमेंट में तो यही ना हुआ है। जज ने कहा कि यह पावर विधायिका की है, वही कानून बनाता है।

इस बार मकर संक्रांति पर सूना रहेगा लालू आवास

राजद प्रमुख लालू प्रसाद के आवास पर इस बार मकर संक्रांति त्योहार नही मनाया जाएगा। राजद विधायक एवं लालू के करीबी भोला यादव ने बताया कि लालू की इकलौती बहन गंगोत्री देवी के निधन से पूरा परिवार सदमे में है। ऐसे में न तो मकर संक्रांति मनाई जाएगी और न ही दही चूड़ा भोज का आयोजन होगा।

लालू आवास के दही-चूड़ा का भोज होता है बिहार के लिए खास

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के घर मकर संक्रांति के अवसर पर दिया जाने वाला दही-चूड़ा के भोज की चर्चा आम और खास सबके बीच रहती है। इस भोज का लोग बेसब्री से इंतजार करते हैं। लेकिन, इस बार लालू परिवार पर आई विपत्ति के कारण संक्रांति का त्‍योहार फीका ही रहेगा।

पिछले साल की मकर संक्रांति, याद करेंगे लोग

जिन दोस्तों ने पिछले साल एक साथ बैठकर दही-चूडा़, तिलकुट का भोज खाया था, वो इस बार किसी और के साथ भोज का मजा लेंगे। पिछले साल की मकर संक्रांति के भोज की बात करें तो लालू आवास पर उस वक्त हंसी-खुशी का माहौल था। पिछली बार लालू की बड़ी बेटी मीसा भारती ने खुद भोज के आयोजन की कमान संभाली थी। मिट्टी के बरतन में दही जमाया गया था, कई क्विंटल चूड़ा लोगों के बीच बांटा गया था। गया के तिलकुट के पैकेट का ढेर लग गया था तो वहीं आलू-गोभी मटर की सब्जी की खुशबू माहौल को और खुशनुमा बना रही थी।

दो दिनों तक चला था भोज

पिछले साल दो दिनों तक लालू आवास पर मकर संक्रांति का भोज चलता रहा था। इसमें शामिल होने के बाद लोगों ने उसे यादगार करार दिया था। लेकिन, किसी को पता नहीं था कि हंस-हंसकर लोगों को अपने हाथों से दही परोसने वाले लालू एक साल बाद जेल में रहेंगे।

Loading...

Check Also

अनंत कुमार के निधन पर नीतीश कुमार ने जताया शोक, कहा- 'अच्छे कामों के लिए याद किए जाएंगे'

अनंत कुमार के निधन पर नीतीश कुमार ने जताया शोक, कहा- ‘अच्छे कामों के लिए याद किए जाएंगे’

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार के निधन पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com